बिहार में कोरोना की कहर: प्रख्यात चिकित्सक डॉ. मोहन मिश्रा का निधन, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जताया शोक

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के प्रख्यात चिकित्सक पद्मश्री डॉ. मोहन मिश्रा का हार्ट अटैक से गुरुवार की रात निधन हो गया। दरंभागा जिले के लहेरियासराय के बंगाली टोला स्थित आवास उन्होंने अंतिम सांस ली। डॉक्टर मोहन मिश्रा के बेटे ने बताया कि पिछले तीन दिनों से वो गंभीर रूप से बीमार थे। उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव थी।डॉक्टर मोहन मिश्रा विश्व स्तर के ख्याति प्राप्त फिजिशियन डॉक्टर थे। उन्होंने कई विषयों व बीमारियों पर शोध किए थे, जिसके बाद उनको तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पद्मश्री से सम्मानित किया था।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने शोक संदेश में कहा कि पद्मश्री डॉ० मोहन मिश्रा जी का निधन दु:खद है। वे प्रख्यात चिकित्सक थे। कालाजार पर शोध के लिए उन्हें 2014 में पद्मश्री सम्मान से सम्मानित किया गया था। वे दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष भी रहे थे। उनके निधन से चिकित्सा जगत को अपूरणीय क्षति हुई है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शान्ति तथा उनके परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की।

आपको बता दे कि डॉक्टर मोहन मिश्रा विश्व स्तर के ख्याति प्राप्त फिजिशियन डॉक्टर थे। उन्होंने कई विषयों व बीमारियों पर शोध किए थे, जिसके बाद उनको तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पद्मश्री से सम्मानित किया था। विश्व में डिमेंशिया यानी भूलने की बीमारी पर प्रभावी और सर्वमान्य रिसर्च नहीं हो सका था।