सीता साहू के पहुंचने में देरी से नाराज हुए विरोधी खेमे के पार्षद, अविश्वास प्रस्ताव के दौरान हंगामा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: पटना की मेयर सीता साहू के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर आज वोटिंग नहीं हो पायी. दरअसल, सीता साहू देरी से पहुंची, जिसके कारण विरोधी खेमे के पार्षद काफी नाराज हो गये. पटना के एसकेएम में वोटिंग होनी थी लेकिन मेयर साहिबा 20 मिनट देरी से आयीं जिसके कारण वोटिंग अब तीन दिनों के लिए टाल दिया गया है.

विरोधी खेमे के वार्ड पार्षदों ने बैठक का बहिष्कार करते हुए वॉकआउट कर दिया. हालांकि मेयर और उनके समर्थक पार्षद अभी भी एस के मेमोरियल हॉल में मौजूद रहे. प्रशासनिक अधिकारियों के सामने एक विचित्र स्थिति पैदा हो गई. आखिरकार यह तय हुआ की तीन दिन बाद प्रस्ताव पर वोटिंग होगी.



आपको बता दें कि सीता साहू के विरोधी खेमे ने अपने साथ 55 पार्षदों के होने का दावा किया है. 41 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है जबकि मेयर गुट का दावा है कि उसके पास 45 पार्षद हैं. जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए विपरीत परिस्थितियों के बावजूद बैठक के लिए सशर्त अनुमति दी थी लेकिन हुआ ठीक इसका उल्टा. सभी टाइम पर पहुंच चुके थे लेकिन मेयर साहिबा के देरी से आने से वोटिंग नहीं हो पायी और खूब हंगामा हुआ.