बिहार सरकार का आदेश, नियोजित-नियमित शिक्षकों का हर हाल में 4 जून तक हो वेतन भुगतान

teacher
प्रतीकात्मक फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार सरकार ने नियमित और नियोजित शिक्षकों का वेतन को लेकर बड़ा फैसला लिया है. राज्य सरकार ने सभी डीईओ को आदेश दिया है कि नियमित और नियोजित शिक्षकों का वेतन हर हाल में 4 जून तक वेतन का भुगतान हो जाना चाहिए. अपर सचिव गिरिवर दयाल सिंह ने साफ कहा कि अगर समय पर भुगतान नहीं होता है तो इसके लिए अधिकारी दोषी होंगे ओर उन पर कार्रवाई होगी.

शिक्षा विभाग के अपर सचिव गिरिवर दयाल सिंह ने सभी डीईओ को आदेश जारी किया है. अपर सचिव ने अपने आदेश में कहा है कि लंबित Employee Data Updation कार्य को तत्काल पूरा करते हुए शत प्रतिशत कर्मियों का मार्च-अप्रैल और मई का वेतन 4 जून तक देना सुनिश्चित करेंगे.



उन्होंने कहा कि नियोजित शिक्षकों एवं गैर सरकारी मदरसा शिक्षकों, कर्मियों जिनका आवंटन प्राप्त हो चुका है उनका तीन महीनों का वेतन भी 4 जून तक कर दें.

बता दें कि बिहार के साढ़े 3 लाख नियोजित शिक्षकों के अरमानों पर सुप्रीम कोर्ट ने पानी फेर दिया है. समान काम के बदले समान वेतन की मांग को सुप्रीम कोर्ट ने ठुकरा दिया है. कोर्ट ने बिहार सरकार को बड़ी राहत देते हुए शिक्षकों को समान काम के बदले समान वेतन देने से मना कर दिया है. कोर्ट ने कहा कि नियोजित शिक्षक समान काम के बदले समान वेतन के कैटेगरी में नहीं आते हैं , उन्हें समान वेतन नही दिया जा सकता है.