चलती कार में पटना के इंजीनियर को गोलियों से भून डाला

पटना : सूबे में अपराध की बहुत बड़ी वारदात हुई है. सिंचाई विभाग के एक अभियंता को चलती कार में गोली मारी गई है. अपराधियों की गोली से इंजीनियर की मौत हो चुकी है. नेशनल हाईवे पर हुई इस वारदात के बाद सनसनी मची है. पुलिस हेडक्वार्टर को भी घटना की जानकारी दी गई है. न तो अपराधियों का पता चला है और न ही घटना के कारणों की जानकारी मिली है.

इंजीनियर की हत्या की ये बड़ी वारदात पटना-छपरा नेशनल हाईवे में सोनपुर थाना क्षेत्र के शिववचन चौक के पास घटी है. मारे गए इंजीनियर का नाम वीरमणि कुमार है. वे पटना के कुर्जी मोहल्ले के रहने वाले थे. पदस्थापन सिंचाई विभाग में थी. घटना के वक़्त वे अपनी लाल कार से पटना को लौट रहे थे.



वारदात स्थल से ऐसा प्रतीत होता है कि अपराधियों को उनके आने जाने की खबर पहले से थी. लाल रंग की कार को दूर से पहचाना जा सकता था. कार जैसे ही अपराधियों की जद में पहुंची, एक के बाद कई गोलियां दागी गई. इसके बाद अपराधी भागते बने.

स्थानीय लोगों ने पुलिस को खबर दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल इंजीनियर को छपरा सदर अस्पताल भेजा जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया जा रहा है.

इंजीनियर वीरमणि कीहत्या करने वाले अपराधी कौन थे, पुलिस के लिए पता लगाना तुरंत संभव नहीं हो पायेगा. पहले पुलिस ह्त्या के कारणों को जानेगी. फिर अपराधियों की शिनाख्त होगी . छपरा के एसपी हरिकिशोर राय ने जांच शुरू कर दी है.

सिंचाई विभाग के इंजीनियर की हत्या की खबर पतन में पुलिस हेडक्वार्टर को भी मिली है. इसके बाद हेडक्वार्टर के आला पुलिस अधिकारी छपरा और वैशाली पुलिस के संपर्क में हैं. इंजीनियर वीरमणि की हत्या के बाद पटना के कुर्जी स्थित इनके घर में कोहराम मचा हुआ है.