राबड़ी देवी इस बार छठ पूजा करेंगी, लालू फैमिली को तेजप्रताप के समय पर लौट आने की है उम्मीद

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : लालू परिवार अभी तनाव में है. राजद सुप्रीमो के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव सोमवार से ही लापता हैं. उनका कोई ट्रेस नहीं मिल रहा है. घर के लोग उनकी गुमशुदगी से बेचैन हैं. पटना में मां राबड़ी देवी परेशान हैं, तो रांची के रिम्स में इलाज करा रहे पिता लालू यादव टेंशन में हैं. ऐसे में अब यह खबर आ रही है कि इस बार पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी छठ करेंगी.

दरअसल राबड़ी देवी पिछले तीन-चार साल से छठ नहीं कर रही थीं. कभी लालू यादव बीमार तो कभी खुद अस्वस्थ हो जा रही थीं. ऐसे में वे छठ करना छोड़ दी थी. इसी बीच लालू फैमिली में अचानक कई झंझावात आए. सरकार चली गई. दोनों बेटे मंत्री पद से हट गये. तब राबड़ी देवी की ओर से कहा गया कि तेजप्रताप की शादी हो जाएगी. घर में बहू आ जाएगी तो वे छठ करेंगी.

हालांकि लालू परिवार में अब नया टेंशन आ गया है. सोमवार से तेजप्रताप यादव लापता हैं. वे अपनी नई नवेली पत्नी से तलाक लेना चाह रहे हैं. उन्होंने तलाक लेने के लिए पटना के फैमिली कोर्ट में अर्जी भी दे रखी है. वे ​फैमिली के किसी भी सदस्य की बात मानने को तैयार नहीं हैं. उनके लापता के बारे में बताने के लिए कोई तैयार नहीं है. वहीं फिलहाल तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या राय राबड़ी आवास में हैं. गौरतलब है कि तेजप्रताप की शादी इसी साल 12 मई को हुई थी.

लालू फैमिली में टेंशन के बाद भी यह बात कन्फर्म हो गई है कि तेजप्रताप यादव की मां राबड़ी देवी इस बार छठ करेंगी. बड़ी बेटी मीसा भारती तो पटना में ही हैं, जबकि अन्य बेटी-दामाद के आने की सूचना है. गम के माहौल के बीच छठ की भी तैयारी शुरू हो गयी है. परिवार वालों को उम्मीद है कि तेजप्रताप यादव समय पर लौट आएंगे. बताया जाता है कि जब राबड़ी आवास में छठ पूजा होती थी, तब तेजप्रताप इसमें काफी हाथ बंटाते थे.

बता दें कि इस बार लोकआस्था के यह महापर्व रविवार यानी 11 नवंबर से शुरू हो रहा है. रविवार को नहाय खाय है, जबकि 12 नवंबर को खरना है. इसी तरह 13 नवंबर को सायंकालीन अर्घ्य है और 14 नवंबर को पारण के साथ महापर्व का समापन है. लालू फैमिली को शुरू से छठ महापर्व में गहरी आस्था है. यदि इधर के तीन-चार साल को छोड़ दिया जाए तो राबड़ी देवी शादी के बाद से ही छठ करती आ रही थीं. गेहूं भी खुद ही सुखाती थीं और छठ के लिए प्रसाद बनाती थीं.

बहरहाल इस बार राबड़ी देवी छठ करेंगी. यह अलग बात है कि तेजप्रताप के लापता होने के बाद से उनके घर से खुशियां गायब हैं. परिवार के लोग टेंशन में हैं. लेकिन उन्हें उम्मीद है कि तेजप्रताप यादव समय पर घर आ जाएंगे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*