इंटर परीक्षा के एडमिट कार्ड में गड़बड़ी होने या गुम होने पर भी एग्जाम की अनुमति, जानें शर्त

लाइव सिटीज, पटना: बिहार बोर्ड एक फरवरी से इंटर की परीक्षा का आयोजन करने जा रहा है. इंटरमीडिएट की वार्षिक परीक्षा 14 फरवरी तक चलने वाली है. इस परीक्षा के लिए बोर्ड ने सभी तैयारी पूरी कर ली है. कोरोनाकाल और ठंड के बीच आयोजित की जा रही इस परीक्षा में बोर्ड ने एकतरफ जहां परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहनकर आने की अनुमति दे दी है वहीं वैसे परीक्षार्थियों को भी घबराने की जरुरत नहीं है जिनके एडमिट कार्ड में कुछ गड़बड़ी हो गयी है. बोर्ड ने वैसे परीक्षार्थियों के लिए ये इंतजाम किये हैं

वैसे परीक्षार्थी जिनके प्रवेश पत्र में फोटो की त्रुटि हो गयी है, उन्हें परीक्षा में बैठने की अनुमति दी गयी है. जिन स्टूडेंट्स के एडमिट कार्ड के फोटो में अगर गड़बड़ी हो या किसी अन्य की तस्वीर छपी हो तो छात्रों को पहचान पत्र के साथ परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा.

छात्र आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आइडी, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस अथवा फोटोयुक्त बैंक का पासबुक लेकर परीक्षा केंद्र पर आयें. इसके साथ ही पहचान पत्र की छायाप्रति राजपत्रित अधिकारी से सत्यापित करा कर परीक्षा केंद्र पर जमा करना होगा.

मूल पहचान पत्र के साथ परीक्षार्थी को स्वयं उपस्थित होना होगा. केंद्राधीक्षक चेहरे का मिलान कर उसे परीक्षा में बैठने की अनुमति देंगे. इसके बाद ही छात्र को ओएमआर शीट व डाटारहित उत्तरपुस्तिका उपलब्ध करायेंगे. यदि किसी परीक्षार्थियों का एडमिट कार्ड गुम हो गया हो, या भूल से घर पर छूट गया हो, तो ऐसी स्थिति में उपस्थिति पत्रक में स्कैंड फोटो से उसे पहचान कर और रॉल शीट से सत्यापित कर परीक्षा में बैठने की अनुमति देंगे.