मैट्रिक फॉर्म भराई में छात्रों से अवैध उगाही करने का मामला, स्कूल प्रशासन के खिलाफ विरोध

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के सुपौल में मैट्रिक फॉर्म भराई में छात्रों से अवैध उगाही का मामला सामने आया है. दरअसल, सुपौल सदर प्रखंड के उत्क्रमित उच्च विद्यालय बेरो में छात्रों से फॉर्म भरने के नाम पर ज्यादा पैसे लिए जा रहे थे. जिसके विरोध में छात्रों और अभिभावकों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने स्कूल प्रशासन के खिलाफ विरोध जताया है.

कोरोना काल में सरकार ने सभी स्कूल और कॉलेज को यह निर्देश दिया है कि वे छात्रों से निर्धारित राशि ही लें, लेकिन सुपौल के उत्क्रमित उच्च विद्यालय में गड़बड़ी का मामला सामने आया है.



उपस्थित छात्र-छात्राओं और अभिभावकों का आरोप था कि सरकारी निर्देश के अनुसार एससी, एसटी, ओबीसी, बीसी के छात्र छात्राओं का सरकारी रेट 730 रुपये है जबकि सामान्य कोटी के छात्र-छात्राओं के लिए 830 रुपये तय किये गए हैं, लेकिन विद्यालय प्रशासन द्वारा अवैध व मनमाना तरीके से 13 सौ से 14 सौ रुपए तक वसूला जा रहा है.

इस मामले में शिक्षा विभाग के आलाधिकारियों से जांच कर उचित कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है.