बाबा रामदेव पर बिहार के 50 थानों में होगी FIR, एलोपैथ के खिलाफ भ्रम फैलाने वाले बयान पर IMA का फैसला

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में आयुर्वेद बनाम एलोपैथ की लड़ाई तेज हो गई है. बाबा रामदेव के बयान के बाद काला फीता बांधकर ड्यूटी करने वाले डॉक्टरों का गुस्सा अभी शांत भी नहीं हुआ था कि IMA ने कार्रवाई की तैयारी कर ली है. रविवार को IMA की बैठक में बाबा रामदेव के खिलाफ बिहार के 50 थानों में मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी की गई है. इसके लिए IMA बिहार की सभी शाखाओं के सदस्यों को तैयार किया गया है. 

बाबा रामदेव का दिया हुआ विवादित बयान हर तरफ बवाल मचा रहा है. उनके बयान का देश भर के डॉक्टर विरोध कर रहे हैं. डॉक्टरों की संस्था इंडियन मेडिकल एसोसिएशन तो पहले भी अपनी कड़ी आपत्ति जता चुकी है. वहीं, इस कड़ी में बिहार के डॉक्टर भी खुलकर सामने आ गए हैं. राज्य के सभी डॉक्टरों ने कोरोना काल में ऐलोपैथ की पद्धति पर बाबा रामेदव की तरफ से दिए गए विवादित बयान का जमकर विरोध किया है. 

IMA बिहार के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार, राज्य सचिव डॉ. सुनील कुमार ने रविवार को हुई बैठक के दौरान कहा कि ‘रामदेव द्वारा आधुनिक चिकित्सा विज्ञान पद्धति, ऑक्सीजन चिकित्सा, कोविड टीकाकरण एवं अन्य एलोपैथी दवाओं के खिलाफ भ्रमकारी बयान दिया गया है. साथ ही कोविड शहीदों का अपमान करने का भी काम किया है. इस संबंध में यह निर्णय लिया गया है कि राज्य की विभिन्न शाखाओं के सदस्यों द्वारा रामदेव के खिलाफ मुकदमा दायर किया जाएगा.’

एलोपैथ के खिलाफ भ्रम फैलाने वाले बयान पर IMA ने कार्रवाई का निर्णय लिया है. बिहार में भी आयुर्वेद बनाम एलोपैथ की लड़ाई तेज हो गई है. रविवार को IMA की बैठक में बाबा रामदेव के खिलाफ बिहार के 50 थानों में मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी की गई है.