मुजफ्फरपुर में दोबारा बाढ़ ने दी दस्तक, अहियापुर थाना बना टापू

मुजफ्फरपुर, अभिषेक: जिले में बाढ़ ने दोबारा दस्तक दे दी है. सभी नदियां खतरे के निशान के आसपास बह रही है. बागमती और गंडक खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. वहीं, बूढ़ी गंडक सिकंदरपुर में खतरे के निशान से कुछ ही नीचे बह रही है. जिस कारण नदी से सटे इस शहर के कई इलाकों में एक बार फिर बाढ़ ने तांडव मचाना शुरू कर दिया है, जिस कारण मजबूरी में लोगों को उनके स्थान पर अपना ठिकाना बनाना पड़ रहा है.

वहीं, लगातार बढ़ते जलस्तर के कारण अहियापुर थाना भी टापू बन गया हैं. थाने के आस पास 3 फीट सड़क पर पानी बह रहा है. इसी वजह से थाने में फरियादी बहुत कम ही आ रहे हैं. और जो फरियादी लेकर आ रहे हैं उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है.



फरियादियों को अपने कपड़े उठा कर आना पड़ता है. साथ ही साथ थाने के कर्मियों को भी काफी मशक्कत के बाद थाने में आना पड़ता है. जलजमाव के कारण थाने में जब्त गाड़ियां पूरी तरह से डूबी हुई हैं. बात अहियापुर थाने कि करें तो यहां बाढ़ के बीच बहुत खराब हालात है. बाढ़ के पानी में फंसे एक फरियादी से जब हमारे संवाददाता अभिषेक ने बात की तो उन्होंने कहा कि पानी में मोबाइल गिरकर टूट गया.

आपको बता दें कि इसी बीच चुनाव भी होना है लेकिन बाढ़ के दोबारा आने से जिला प्रशासन के लिए काफी मुश्किलें खड़ी हो गई है. साथ ही बाढ़ पीड़ितों ने बताया कि उनके लिए अभी तक कोई व्यवस्था नहीं की गई है.