समस्तीपुर मंडल के तीन रेलखंडों में बाढ़ का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, ट्रैक के पास पहुंचा पानी

पटना, हाजीपुर: पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश के कारण समस्तीपुर में स्पेशल ट्रेनों का परिचालन बाधित है. इस मंडल के समस्तीपुर-दरभंगा, दरभंगा-सीतामढ़ी एवं सहरसा-मानसी रेलखंडों पर स्थित 06 रेलपुलों के निकट बाढ़ का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर आ जाने के कारण पूर्व मध्य रेल द्वारा सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए इन रेलखंडों पर चलायी जा रही स्पेशल ट्रेनों को परिवर्तित मार्ग अथवा आंशिक समापन/प्रारंभ कर चलायी जा रही हैं.

स्थिति सामान्य होते ही सभी ट्रेनें अपने पूर्व निर्धारित मार्ग से चलने लगेंगी. समस्तीपुर-दरभंगा मुख्य रेलमार्ग के बीच 03 रेलपुल तथा दरभंगा-सीतामढ़ी रेलमार्ग पर कमतौल और जोगियारा स्टेशन के बीच 01 रेलपुल पर बाढ़ का पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है. इसी तरह सहरसा-मानसी रेलखंड पर कोपरिया से बदलाघाट के बीच 02 रेलपुलों के निकट भी बाढ़ का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर चुका है.



बुधवार सुबह 5 बजे तक बाढ़ का पानी समस्तीपुर-मुक्तापुर के बीच रेलपुल संख्या 01 के निकट खतरे के निशान से 1.95 मीटर तथा हयाघाट-थलवारा के बीच रेलपुल संख्या 16 तथा 17 के निकट खतरे के निशान से क्रमशः  1.15 मीटर एवं 1.07 मीटर ऊपर आ चुका है.

इसी तरह सहरसा-मानसी रेलखंड पर कोपरिया से बदलाघाट के बीच रेलपुल संख्या 47 एवं 50 के निकट तथा कमतौल-जोगियारा के बीच स्थित रेलपुल संख्या 18 के निकट भी बाढ़ का पानी पहुंच चुका है.

पूर्व मध्य रेल का प्रयास है कि बाढ़ के कारण रेलवे ट्रैक एवं रेलपुलों को कम से कम क्षति पहुंचे ताकि स्थिति सामान्य होते ही ट्रेनों का परिचालन यथाशीघ्र प्रारंभ किया जा सके. इसके लिए अधिकारियों द्वारा स्थिति की निगरानी की जा रही है. इसी कड़ी में रेलवे ट्रैक एवं रेलपुलों की दिन-रात पेट्रोलिंग सहित अन्य निरोधात्मक कदम उठाए जा रहे हैं.