दीदी पर जेडीयू का हमला, ‘घोटालेबाजों का गढ़ है बंगाल’

पटना: नोटबंदी के विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जब धरना देने पटना पहुंची तो वहां उन्हें बिहार के सीएम नीतीश कुमार और जदयू का साथ नहीं मिला. इस वाकये से उठे विवाद के कारण तृणमूल कांग्रेस और जदयू के बीच संबंध खराब होते जा रहे हैं.



जेडी(यू) ने अपने नेताओं पर ममता के हमले पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी ने कई घोटालों में ममता की तृणमूल कांग्रेस के नेताओं की संलिप्तता का जिक्र करते हुए जबर्दस्त पलटवार किया है.
harivansh231
ममता ने इशारों-इशारों में नीतीश को ‘गद्दार’ कह डाला तो जेडी(यू) के सांसद हरिवंश ने कहा कि बंगाल सरकार चिट फंड घोटालों में शामिल लोगों पर कार्रवाई करने में असफल रही. उन लोगों ने न केवल राज्य बल्कि देश के पूरे पूर्वी इलाके के लोगों के हजारों करोड़ रुपये लूट लिए. उन्होंने घोटालों में तृणमूल नेताओं की भागीदारी का भी जिक्र किया.

राज्यसभा सांसद हरिवंश ने कहा, ‘बंगाल घोटालेबाजों का लगातार गढ़ बन रहा है जिन्होंने बंगाल के साथ-साथ झारखंड, बिहार, असम, ओडिशा और त्रिपुरा के गरीबों के हजारों करोड़ रुपये लूटने के लिए चिट फंड का जाल बिछाया. दुर्भाग्य है कि तृणमूल नेता भी ठगी के उन वारदातों से जुड़े रहे’

यह भी पढ़ें- BREAKING : पटना एयरपोर्ट से 1.20 करोड़ रुपये बरामद