बिहार के लोगों को लगेगा महंगी बिजली का करंट

लाइव सिटीज डेस्क :  बिहार के बिजली उपभोक्ताओं को जल्द ही महंगे बिजली बिल का कंरट का झटका लग सकता है. आनेवाले दिनों में बिजली 10 से 20 पैसे प्रति यूनिट महंगी हो सकती है. कोयले की कीमत में बढ़ोतरी से ताप बिजली घरों का खर्च बढ़ने वाला है. जिसका सीधा असर उपभोक्ताओं पर पड़ेगा. सूबे के ऊर्जा मंत्री विजंद्र प्रसाद यादव ने बताया कि कोयले की कीमत बढ़ने से बिजली उत्पादन का लागत बढ़ेगा. बिजली खरीद पर अधिक भुगतान करना होगा, तो बिजली की कीमत बढ़ेगी. बिजली कितनी महंगी होगी इसका आकलन चल रहा है. संभावना है कि 10 से 20 पैसा प्रति यूनिट दाम बढ़ सकता है. 

यह भी पढ़ें-
और जेल से छूट गईं घोटाले में शामिल लालकेश्वर की पत्नी उषा

 कोयला महंगा होने से बिजली घरों का खर्च बढ़ेगा  तो स्वाभाविक है कि वह महंगी बिजली बेचेगा.विभाग के एक अधिकारी के अनुसार इसका हिसाब हो रहा है कि कोयला महंगा होने से कितना बोझ बढ़ेगा. बढ़ी हुई कीमत के लिए बिजली कंपनी को फ्यूल सरचार्ज लगाने का अधिकार है. इसके लिए बिजली कंपनियों को विद्युत विनियामक आयोग  के पास जाना होगा. उसके बाद आयोग इसकी समीक्षा तथा जन सुनवाई करेगा. उसके बाद आयोग अपना निर्णय सुनायेगा. बिहार को सेंट्रल पुल से जो बिजली मिलती है वह एनटीपीसी की बाढ़,  कहलगांव, फरक्का,  तालचर इकाई आदि से आती है. बिहार का अपना कांटी और बरौनी भी ताप बिजली घर ही है.



power-cut-crisis-electricit