संसद ठप : सरकार, स्पीकर और विपक्ष पर भड़के आडवाणी

लाइव सिटीज डेस्क : नोटबंदी के मुद्दे पर संसद में लगातार हो रहे हंगामे से संसदीय कार्य बाधित है. हर दिन कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ रहा है. विपक्ष द्वारा नोटबंदी के मुद्दे को लगातार तूल देते हुए सदन में शोर मचा कर कार्यवाही को स्थगित कर दिया जा रहा है. इस बात से नाराज भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने पक्ष- विपक्ष और स्पीकर सबको आड़े हाथों लिया है.

उन्हें यह कहते सुना गया कि न तो स्पीकर और न ही संसदीय कार्य मंत्री सदन को चला पा रहे हैं. बेहद क्षुब्ध दिख रहे आडवाणी को सदन में विपक्ष के लगातार हंगामे एवं विरोध पर तथा विपक्ष के कई सदस्यों के नारेबाजी करते हुए सत्ता पक्ष की सीटों के सामने आ जाने पर संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार से अपनी नाखुशी व्यक्त करते सुना गया. आडवाणी ने विपक्ष के साथ-साथ अपनी सरकार पर ठीक से काम न करने का आरोप लगाया.

advani-final

बेहद नाराज दिखे आडवाणी
कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही स्थगित किये जाने के तत्काल बाद आडवाणी को यह कहते सुना गया कि, ‘‘न तो स्पीकर और न ही संसदीय कार्य मंत्री सदन को चला पा रहे हैं.’’ आडवाणी को यह कहते सुना गया कि, ‘‘मैं स्पीकर से कहने जा रहा हूं कि वह सदन नहीं चला रही हैं.. मैं सार्वजनिक तौर पर यह कहने जा रहा हूं। दोनों इसके पक्ष हैं.’’

क्यों नहीं अनिश्चितकाल के लिए सदन की कार्यवाही रोक दी जाए.

क्रोधित 89 वर्षीय आडवाणी ने सदन के लगातार ठप रहने पर बोला की कब तक सदन की कार्यवाही स्थगित रहेगी ? अभी 2 बजे तक किया गया है. क्यों नहीं क्यों नहीं अनिश्चितकाल के लिए सदन की कार्यवाही रोक दी जाए.
आडवाणी को शांत करते दिखे अनंत कुमार-
इस दौरान संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार को उन्हें शांत करने का प्रयास करते देखा गया। कुमार मीडिया गैलरी की ओर भी इशारा कर रहे थे और संभवत: यह बताने का प्रयास कर रहे थे कि उनकी टिप्पणी को रिपोर्ट किया जा सकता है.

कांग्रेस की सुष्मिता देव ने आडवाणी की नाराजगी पर कहा-

नाराज आडवाणी  द्वारा पक्ष-विपक्ष को सबक देने के बाद कांग्रेस सांसद  सुष्मिता देव ने कहा कि मैं आडवाणी जी को धन्यवाद देती हूँ, उन्होंने इस मामले को बिलकुल सही परिप्रेक्ष्य में उठाया है. यह सरकार की जिम्मेवारी है की सदन में कैसे अधिक से अधिक कार्य हो. आडवाणी जी वरिष्ठ हैं. हम आशा करते हैं की उनकी अच्छी सलाह पर  सरकार जरुर अमल करेगी.

यह भी पढ़ें-बरमेश्‍वर मुखिया के हत्‍यारे का सुराग दो,10 लाख कैश लो

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*