‘हिन्दू विरोधी पीएम मोदी, नोटबंदी सरकार के अंत की शुरुआत’

लाइव सिटिज डेस्क : नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर लगातार हमलावर रही विपक्षी पार्टियों को अब हिन्दू महासभा का भी साथ मिल गया है. उग्र हिंदुत्व के समर्थक इस संगठन ने पीएम पर हमला करते हुए उनपर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगाया है. इसके साथ ही संगठन ने यह भी कहा है कि यह (नोटबंदी ) फैसला मोदी सरकार के अंत की शुरुआत है.



अलीगढ़ में एक कार्यक्रम में बोलते हुए अखिल भारतीय हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन पाण्डेय ने मोदी सरकार पर नोटबंदी को लेकर जोरदार हमला किया. केंद्र सरकार पर हिन्दू विरोधी होने का आरोप लगाते हुये उन्होंने कहा कि सरकार ने नोटबंदी को हिंदुओं की शादी के कैलेंडर की शुरुआत से ठीक पहले लागू किया जबकि दूसरी तरफ भाजपा के सदस्य देशभर में इस्लामिक बैंकों को प्रोत्साहन दे रहे थे.

महासभा ने केंद्र सरकार के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि अभी तक इस योजना के मकसद की जानकारी नहीं लग पाई है. नोटबंदी के कारण 200-300 रुपये की दिहाड़ी कमाने वाले गरीब लोगों या फिर सरकारी पेंशन पर आश्रित लोगों को मुश्किलें झेलनी पड़ रही हैं. अमीरों पर इस फैसले का असर पड़ा हो, ऐसा नहीं लगता है.

महासभा ने पीएम मोदी के आक्रामक समर्थकों को भी निशाना बनाया. पाण्डेय ने कहा कि ‘इन लोगों ने प्रधानमंत्री की योजनाओं का विरोध करने वाले लोगों को देशद्रोही कहकर देश भर में डर का मनोविज्ञान कायम कर दिया है. ऐसे में नकद की कमी के कारण काफी असुविधा झेल रहे आम आदमी के पास इस योजना का गुणगान करने के अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं बचा है.’

यह भी पढ़ें :
जयललिता की हालत बेहद नाजुक, ECMO पर रखा गया
लोक संवाद की शुरुआत एक ऐतिहासिक दिन : सीएम नीतीश