नीतीश का फ्लोर टेस्ट आज 11 बजे, सभी दलों ने जारी किया व्हिप

SUSHIL-NITISH
फाइल फोटो

पटना : बिहार विधानसभा के शुक्रवार से शुरू हो रहे विशेष सत्र में सूबे की नई सरकार अपना विश्वास मत साबित करेगी. इस विशेष सत्र के पहले दिन नीतीश कुमार विधानसभा में बहुमत सिद्ध करेंगे. गुरुवार को नीतीश मंत्रिमंडल ने शपथ ग्रहण के तत्काल बाद बुलाये गए कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया है.

इधर बिहार में गुरुवार देर शाम से चल रहे ताजा घटनाक्रम में सभी दलों ने अपने विधायकों को व्हिप जारी कर दिया है. भाजपा और जदयू ने अपने विधायकों को व्हिप जारी कर विश्वास मत के पक्ष में मतदान करने को कहा गया है. वहीँ राजद और कांग्रेस ने अपने-अपने विधायकों को जारी व्हिप में विश्वास मत के विरोध में मतदान करने की बात कही है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में आज शपथ लेने वाली नई सरकार ने सदन में 132 विधायकों के समर्थन का दावा किया है.

गुरुवार शाम को हुई राजद के विधायक दल की बैठक के बाद विधायक भाई बीरेंद्र ने कहा है कि वो सदन में शुक्रवार को नीतीश कुमार के शपथ लेने का विरोध करेंगे. उन्होंने कहा कि वो सदन में विश्वास मत के दौरान गुप्त मतदान की भी मांग करेंगे. गौरतलब है कि महागठबंधन सरकार से बाहर होने के साथ ही राजद ने जदयू एवं भाजपा के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है. राजद ने दावा किया कि जदयू के चार दर्जन विधायक अपनी पार्टी में असहज महसूस कर रहे हैं. वे कभी भी बगावत कर सकते हैं.

सदन में नीतीश कुमार को गुप्त मतदान की चुनौती देते हुए राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने आज दावा किया है कि वे सभी हमारे साथ आना चाहते हैं. मनोज के मुताबिक ये ऐसे विधायक हैं जो भाजपा विरोधी वोट से जीतकर आए हैं. उन्हें लग रहा है कि नीतीश कुमार ने जनादेश को धोखा दिया है.

यह भी पढ़ें –

‘नीतीश ने जब भी त्याग किया उन्हें सत्ता मिली, उन्हें अब नीतीश त्यागी कहें’

नीतीश के फैसले से शरद चिंतित, 1-2 दिनों में बड़े नेताओं से करेंगे बात

खत्म हुई RJD की मीटिंग, तेजस्वी होंगे विपक्ष के नेता

नीतीश कुमार के NDA संग जाने पर हाईकोर्ट पहुंचा राजद, सरकार गठन के फैसले को दी चुनौती