‘दो नाव की सवारी अच्छी नहीं, महागठबंधन में शामिल होना है तो जल्द फैसला करें कुशवाहा’

जीतन राम मांझी, बीपी मंडल, बिहार, नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव, खीर, उपेंद्र कुशवाहा, आरएलएसपी, Upendra Kushwaha, kushwaha kheer statement, Bihar

लाइव सिटीज डेस्क : यादवों के दूध और कुशवाहा के चावल से बने खीर वाले बयान के सभी अलग-अलग मायने निकल रहे हैं. हालांकि अपने इस बयान को लेकर उपेंद्र कुशवाहा ने अब सफाई भी दे दी है. उन्होंने साफ़ कह दिया है कि उनके इस खीर वाले बयान को किसी दल से जोड़कर ना देखा जाये. लेकिन फिर भी सभी नेता अपने राग अलाप रहे हैं. बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के बयान को महागठबंधन में एंट्री बताया. साथ ही मांझी ने दो टूक शब्दों में कहा कि अगर कुशवाहा को महागठबंधन में आना है तो वो जल्द ही फैसला लें.

दो नावों की सवारी अच्छी नहीं होती

जीतनराम मांझी ने कुशवाहा को चेतावनी देते हुए कहा कि दो नावों की सवारी अच्छी नहीं होती है. साथ ही मांझी ने यह भी साफ़ कर दिया कि उपेंद्र कुशवाहा सीएम पद के लिए लालायित हैं लेकिन महागठबंधन में सीएम पद के लिये कोई वैकेंसी नहीं है. मांझी ने कहा कि कुशवाहा को बिना शर्त आना होगा फिर उनका स्वागत है. उन्होंने कहा कि हमें कोई डील बर्दाश्त नहीं है और तेजस्वी यादव ही हमारे नेता हैं. मांझी ने कहा कि तेजस्वी के नाम को लेकर हमें कोई कंफ्यूजन नहीं.

क्या कहा था कुशवाहा ने

बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार को बीपी मंडल की जंयती के दौरान कहा था कि यादवों का दूध और कुशवाहों का चावल मिल जाए तो स्वादिष्ट खीर बनेगा. उन्होंने खीर बनाने के लिए पंचमेवा, चीनी, तुलसी पत्ता की भी बात कही थी. उपेंद्र कुशवाहा के इस बयान के बाद से बिहार में सियासत तेज हो गई है.

दूध और चावल किसी जाति विशेष का नहीं

बिहार भाजपा ने भी कुशवाहा के इस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा कि दूध और चावल किसी जाति विशेष का नहीं बल्कि देश का है. इधर तेजस्वी यादव ने भी कुशवाहा के बयान का समर्थन किया था. साथ ही राजद के शिवानन्द तिवारी ने भी कुशवाहा को महागठबंधन में शामिल होने का न्योता दे दिया.

यह भी पढ़ें : अपने खीर वाले बयान पर बोले कुशवाहा- ना राजद से दूध मांगा, ना बीजेपी से चीनी

उपेंद्र कुशवाहा : मलाई भी खा रहे हैं, खीर भी पका रहे हैं, मोदी को औकात बता रहे हैं

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*