खगड़िया मुठभेड़: विपक्ष के साथ BJP ने भी दी नीतीश कुमार को नसीहत, JDU ने दिया जवाब

खगड़िया,bihar,Bihar News,patna,Bihar politics, Khagaria, policeman martyr, Encounter, Criminals, BJP, JDU, HAM, RJD, पुलिसकर्मी शहीद, राजनीति तेज, मुठभेड़, अपराधी

लाइव सिटीज डेस्क: बिहार के खगड़िया में थाना प्रभारी की हत्या व प्रदेश में बढ़ रहे अपराध पर विपक्षी पार्टियों के साथ-साथ अब नीतीश कुमार की सहयोगी पार्टी बीजेपी भी उनपर सवाल खड़े कर रही है और नसीहत दे रही है. बीजेपी नेता रामेश्वर चौरसिया ने शनिवार को सासाराम में कहा कि बढ़ते अपराध से सरकार और सत्ताधारी पार्टियों की इमेज खराब हो रही है. रामेश्वर चौरसिया ने कहा कि ऐसे में सीएम और डिप्टी सीएम को पूरे मामले पर संज्ञान लेना चाहिए. बिहार में अब 2005 वाली प्रशासन बहाल करने की जरूरत है. क्योंकि बिहार के लोगों को सिर्फ एनडीए पर ही भरोसा और उम्मीदें हैं.

भाजपा ने नीतीश सरकार पर उठाए सवाल

बीजेपी नेता रामेश्वर चौरसिया ने प्रदेश में बढ़ी आपराधिक वारदातों पर चिंता व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को अब लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई करने की जरूरत है. क्योंकि जनता का विश्वास बनाए रखना बहुत जरूरी है. आने वाले दिनों में चुनाव है. ऐसे में इस तरह की घटनाएं सरकार और पार्टियों के प्रति जनता में गलत मैसेज दे रही हैं. बिहार की जनता को महागठबंधन से कोई उम्मीद नहीं है. जनता आज भी एनडीए से ही अपनी उम्मीदें रखती हैं. ऐसे में सरकार को अपने अधिकारियों के साथ मिल बैठकर 2005 की तरह रणनीति बनाने की जरूरत है.

सरकार अपराध पर अंकुश लगा रही है-जदयू

वहीं जदयू नेता संजय सिंह ने कहा है कि ये घटना दुखद है. थानाध्यक्ष को पुलिस बल क्यों नहीं दिया गया इसकी जांच होनी चाहिए. ये घटना हमारे लिए चुनौती है और पुलिस पर भी सवाल उठाती है. ये वहां के एसपी बताएंगे कि थानाध्यक्ष ने अतिरिक्त पुलिस बल की मांग की थी या नहीं. पूरे मामले की जांच की जानी चाहिए. खगड़िया की घटना काफी दुखद है. साथ ही जेडीयू ने कहा कि सर्च अभियान के दौरान इस तरह की घटनाएं हो जाती हैं. जवान के जज्बे से सरकार की मंशा चलती है. सरकार अपराध पर अंकुश लगा रही है. अपराधियों को जेल भेजा जा रहा है.

आपको बता दें कि बिहार के खगड़िया में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें पसराहा थाना प्रभारी आशीष कुमार शहीद हो गए. मुठभेड़ के दौरान कुछ पुलिस जवान भी घायल हो गए हैं. मुठभेड़ की सूचना मिलते ही एसपी मीनू कुमारी मौके पर पहुंची. इसके अलावा कई और थाने की पुलिस की मौके पर पहुंची. मुठभेड़ दिनेश मुनि गिरोह के सदस्यों ने चलाई है. सलारपुर दियारा के बारे में पुलिस को सूचना मिली थी कि यहां बदमाशों का जमावड़ा लगा है जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची थी. अपराधियों के धड़-पकड़ के लिए थाना प्रभारी वहां पहुंचे थे.

यह भी पढ़ें- खगड़िया मुठभेड़ : बोले मांझी- बिहार में अपराध के जिम्मेदार हैं नीतीश, लगे राष्ट्रपति शासन

RERA Approved वीआईपी रेजीडेंसी हो चला तैयार, अभी बुकिंग पर Alto Car फ्री

About Razia Ansari 1935 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*