दशहरा खराब हो गया जीतन राम मांझी का, अब हिसाब करके रहेंगे

MANJHI
जीतनराम मांझी (फाइल फोटो)

पटना : सचमुच, भाजपा वालों ने आज बिहार के पूर्व मुख्य मंत्री जीतन राम मांझी का दशहरा खराब कर दिया. नए गवर्नरों की नियुक्ति का इंतजार कितने दिनों से था. बड़ा भरोसा मिला हुआ था. इस भरोसे के पूर्ण होने की आस में वे नीतीश कुमार का समर्थन भी करने लगे थे. जानते थे कि नए राज्यपालों की नियुक्ति का पर्चा निकलेगा, तो उनका नाम जरुर होगा. पर, जब आज अपॉइंटमेंट लेटर आया,तो मांझी कहीं नहीं थे. हां, बिहार से भाजपा के पुराने नेता गंगा प्रसाद की लॉटरी लग गई थी. गंगा प्रसाद मेघालय का गवर्नर नियुक्त किये गए हैं.

जीतन राम मांझी को आज सच में लग गया है कि उन्हें NDA में अब कोई वैल्यू नहीं मिल रही. करीबी बताते हैं कि वे उदास हो गए हैं और फैसले की बात करने लग गए हैं. लेकिन परेशानी यह है कि उनकी पार्टी हम में सभी बड़े नेता फॉरवर्ड हैं और ये NDA के साथ ही बने रहना चाहते हैं. शायद भाजपा का नेतृत्व मांझी के सभी लेफ्ट-राइट को ठीक से जानता है, सो और बेखबर रहता है.

मांझी के गुस्से की और बड़ी वजह यह है कि उन्हें NDA में रामविलास पासवान से बहुत कम भाव मिल रहा है. इस पीड़ा को वे कई बार जाहिर कर चुके हैं. महागठबंधन को तोड़ नीतीश कुमार जब बिहार में NDA का कैबिनेट बना रहे थे, तो लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान के चुनाव हारे हुए भाई पशुपति कुमार पारस को मंत्री बनाया गया, पर मांझी को कोई तवज्जो नहीं मिली. मांझी रामविलास के भाई पारस की तरह अपने बेटे संतोष मांझी का भी एडजस्टमेंट चाहते थे, पर तब किसी ने नहीं सुनी. फिर,  राज्यपाल की बात चली, जो भी आज खत्म हो गई. बेटे को बोर्ड जैसा भी अब तक कुछ नहीं मिला है.

मांझी को जानने वाले कह रहे हैं कि आज उन्हें कई पुराने वाकये लोग याद करा रहे हैं. जैसे 2014 में जब बक्सर में भाजपा के सबसे वरिष्ठ नेता लालमुनि चौबे का टिकट काटा गया था, तब उन्हें राज्यपाल बनाने का आफर मिला था. इंतजार में ही लालमुनि चौबे दुनिया से चले गए. अभी जब केंद्रीय मंत्रिपरिषद से उत्तर प्रदेश के सीनियर लीडर कलराज मिश्र का मंत्री पद से इस्तीफा लिया जा रहा था, तब उन्हें भी बिहार का गवर्नर बनाये जाने की बात हुई थी, पर आज जब नए गवर्नर का लिस्ट निकला, तो उनका नाम भी गायब था. मतलब साफ है कि कलराज मिश्र का राजनैतिक कैरियर भी अब अवसान की ओर धकेल दिया गया है.

यह भी पढ़ें-
सत्यपाल मलिक बनाए गए बिहार के नए गवर्नर, गंगा बाबू को मेघालय का जिम्मा
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

About Abhishek Anand 120 Articles
Abhishek Anand

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*