बिहार : पटना के मेट्रो से लेकर भारतमाला योजना पर CM ने कह दिया साफ-साफ

लाइव सिटीज डेसक : बिहार में सड़क निर्माण को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी गंभीर हैं. उन्होंने बुधवार को पथ निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा भी की. इसमें पटना के मेट्रो से लेकर भारतमाला योजना के तहत बननेवाली सड़कों पर उन्होंने कई तरह के निर्देश दिये. इसे लेकर बुधवार को पटना में एक अणे मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास में बैठक हुई. इसमें उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव समेत तमाम विभागीय अफसर भी मौजूद थे. बैठक में प्रधान सचिव व पथ निर्माण ने सीएम को पटना और उसके आस-पास चल रहे 15 बड़े प्रोजेक्ट की विस्तृत जानकारी दी.

बैठक में सीएम नीतीश कुमार के समक्ष मीठापुर फ्लाई ओवर को चिरैयाटांड़ फ्लाई ओवर वाया करबिगहिया को कनेक्ट करने वाली फ्लाई ओवर, एप्रोच पथ सहित नाली व्यवस्था पर विस्तृत रूप से चर्चा की गयी. पटना-गया रोड के तहत पुनपुन से मीठापुर की तरफ आने वाली सड़क (जो रेलवे लाइन के समानान्तर है) पर एलिवेटेड सड़क बनाने पर भी बात हुई. मुख्यमंत्री ने सभी सड़कों के बेहतर रखरखाव करने का निर्देश दिया. उन्होंने साफ कहा कि स्टेट हाइवे सहित अन्य सड़कों को ओपीआरएमसी में डालें ताकि उनका बेहतर रूप से रखरखाव हो सके.

सीएम को एलिवेटेड पथ का माॅडल भी दिखाया गया. उन्होंने अधिकारियों से यह भी कहा कि निर्माण के दौरान मेट्रो एलाइनमेंट का भी गंभीरता से ध्यान रखें. केंद्र सरकार की प्रायोजित भारतमाला योजना पर भी मुख्यमंत्री गंभीर दिखे. प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने भारतमाला के बारे में जानकारी दी. कहा कि केंद्र की इस स्कीम के तहत 35 हजार किलोमीटर सड़क का निर्माण पूरे देश में होना है. वहीं बिहार में इसके तहत 1432 किलोमीटर सड़क बननी है.

नीतीश बोले : चंपारण की धरती से संवरेगी देश की तकदीर, फिर 21 जनवरी को बनेगी मानव श्रृंखला

इस योजना के तहत मोहनिया-आरा, रजौली-बख्तियारपुर सड़क के साथ-साथ इंटर कॉरिडोर से औरंगाबाद-दरभंगा, सासाराम-पटना, पटना-हाजीपुर-मुजफ्फरपुर के साथ-साथ अन्य फीडर सड़कों सोनवर्षा-रक्सौल, मुजफ्फरपुर-बेगूसराय-पटना साहिब, मुजफ्फरपुर-साहेबगंज, छपरा- पटना, चकिया-बैरगिनिया, अररिया-सुपौल आदि सड़क निर्माण की योजना है.

बैठक में राम मनोहर लोहिया पथ चक्र के बारे में भी विस्तार से बताया गया. राम मनोहर लोहिया पथ चक्र का वीडियो प्रेजेंटेशन मुख्यमंत्री के समक्ष दिया गया. मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि राम मनोहर लोहिया पथ चक्र के निर्माण के क्रम में पटना मेट्रो के एलायनमेंट को ध्यान में रखें, ताकि किसी प्रकार की बाद में कोई दिक्कत नहीं आए.

समीक्षा बैठक में विकास आयुक्त शिशिर सिन्हा, जल संसाधन के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह, ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत, सीएम के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव अतीश चंद्रा, सचिव मनीष कुमार वर्मा समेत अनेक तमाम अधिकारी मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*