अब शरद गुट आया सामने, कहा- यह कृषि का नहीं घोटालों का रोडमैप है

फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में कृषि रोड मैप का उद्घाटन हो गया है. इसे लेकर विपक्ष नीतीश सरकार पर हमलावर बना हुआ है. पहले नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने इस पर हमला किया. अब शरद गुट के नेता सामने आये हैं. जदयू के शरद गुट ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि यह कृषि नहीं, घोटालों का रोड मैप है.

जदयू के बागी सांसद शरद यादव गुट के रमई राम ने कृषि रोडमैप के बहाने नीतीश सरकार पर हमला किया है. पूर्व मंत्री रमई राम अभी जदयू के शरद गुट के प्रदेश अध्यक्ष हैं. उन्होंने नीतीश सरकार के कृषि रोडमैप को घोटालों का रोडमैप कहा है. उन्होंने कहा कि सृजन घोटाला, शिक्षा घोटाला, शौचालय घोटाला, पता नहीं नीतीश कुमार और कितने घोटालों का रोडमैप बनाएंगे.

उदय नारायण चौधरी के बाद अब मांझी गरम, कहा- नीतीश ने मेरे खिलाफ कुचक्र रचा था 

बता दें कि कृषि रोड मैप का उद्घाटन गुरुवार को पटना में हुआ था. इसका उद्घाटन करने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद खुद पटना आए हुए थे. उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद थे. इसमें किसानों के उत्थान से लेकर कृषि के विकास तक की बातें कही गयी थीं. वहीं रमई राम ने तंज कसते हुए कहा कि किसान कर्ज में डूबे हैं. वे खेती-बाड़ी छोड़ मजदूरी कर रहे हैं. कृषि रोडमैप महज दिखावा है.

यशवंत सिन्हा फिर बरसे, पीएम पर साधा निशाना, कहा- अरुण जेटली को हटाएं 

शरद गुट के प्रदेश अध्यक्ष रमई राम ने जीएसटी को लेकर केंद्र सरकार को भी घेरने का काम किया. उन्होंने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जीएसटी लाकर जनता को ठगने का काम किया है. केंद्र खुद के फंसने के बाद उसमें हर दिन कुछ न कुछ बदलाव कर रहा है. गुजरात चुनाव को देखते हुए रोज जीएसटी में सुधार की बात की जा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि 21 नवंबर को विपक्ष की संयुक्त बैठक होने वाली है. उसमें भी कई तरह के निर्णय लिये जायेंगे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*