संजय सिंह का बड़ा हमला : गिरगिट की तरह रंग बदलते हैं शिवानंद तिवारी

संजय सिंह जदयू, संजय सिंह, शिवानंद तिवारी, नीतीश कुमार, जदयू, बिहार राजनीति, बिहार समाचार, बिहार की ख़बरें, news bihar, bihar

लाइव सिटीज पटना : जदयू के मुख्य प्रवक्ता और विधान पार्षद संजय सिंह ने बयान जारी करते हुए लालू प्रसाद व शिवानंद तिवारी पर हमला बोला है. बुधवार को उन्होंने कहा कि बाबा का खेल निराला से निराला है. ये बाबा शिवानंद तिवारी हैं, जो कलयुग में भस्मासुर के अवतार में हैं. ये जिसके सिर पर अपना हाथ रख दें, वह खत्म हो जाता है. ये जिस डाल पर बैठते हैं, उस डाल को सूखा देते हैं. ये आरजेडी में इसीलिए गए हैं कि इन्हें आरजेडी को नेस्तनाबूद करना है. उन्होंने कहा कि आज लालू प्रसाद जिस स्थिति में हैं और जेल की सजा काट रहे हैं, ये शिवानंद तिवारी की ही देन है.

उन्होंने कहा कि शिवानंद तिवारी ने ही सीबीआई कोर्ट में पिटीशन डाला था और लालू प्रसाद पर केस चलवाया था. आज भले शिवानंद तिवारी उनके परिवार के शुभचिंतक बने हुए हों, लेकिन इनका मुख्य मकसद लालू प्रसाद के परिवार को बिहार की राजनीति से उखाड़ फेंकने का है. शिवानंद तिवारी न जाने लालू प्रसाद से किस जन्म का बदला ले रहे हैं. पहले जेल भिजवाने का इंतजाम किया, अब मरहम लगा रहे हैं. ऐसे तो गिरगिट भी अपना रंग नहीं बदलता होगा.

अभी नहीं छूटेगा लालू का कोर्ट से कनेक्शन, ये 4 मामले बढ़ाएंगे टेंशन 

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि न्यायालय एक मंदिर होता है और न्यायाधीश को उस मंदिर का देवता माना जाता है. उनके फैसले को भी सर्वोपरि माना जाता है, लेकिन आरजेडी और उनकी सहयोगी पार्टियों ने न्याय के उस मंदिर पर सवाल उठाने का काम किया है जिसकी इजाजत भारतीय संविधान भी नहीं देता है. जिस तरह से आरजेडी और उनकी सहयोगी पार्टियों ने न्यायालय के फैसले पर ओछी टिप्पणी की है, उससे उनके न्यायालय के प्रति द्वेष का पता चलता है. न्यायपालिका की अवमानना करनेवालों की पेशी भी 23 जनवरी होनेवाली है. अब नोटिस का दीजिए जवाब.

उन्होंने कहा कि सजा देकर भी सजा न देना और सजा के लिए पल-पल तड़पाना. ये उन पापों की सजा है, जिससे बिहार की गरीब जनता तड़पी थी. यह सब गरीब जनता की आह ही है. सजा मिलनी तो तय है, लेकिन उसके लिए भी इंतजार करना पड़ रहा है. ये सज़ा क्या कम है कि एलान ए सज़ा का इंतज़ार करवट बदल-बदल कर करना पड़ रहा है. क़यामत भरी एक और रात काटने को मजबूर है लालू प्रसाद. सच है बे’चारा’ हो गए है लालू प्रसाद.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*