नीतीश कुमार पर शिवानंद तिवारी ने दागा सवाल, कहा- ​इसके लिए सीएम प्रायश्चित करेंगे क्या ?

फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने बिहार के मख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने उन पर परंपरा तोड़ने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि पटना में अजान के समय भी नीतीश कुमार भाषण देते रह गये. उन्होंने सवाल दागा है कि इसके लिए नीतीश जी प्रायश्चित कर रहे हैं क्या?

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि मंगलवार को पटना के नवनिर्मित ऊपरी सड़क के उद्घाटन के अवसर पर उनका भाषण हुआ. भाषण के दरम्यान स्टेशन वाली बड़ी मस्जिद से अजान की आवाज आई. अजान की आवाज के बीच भी मुख्यमंत्री का भाषण जारी रहा. उन्होंने कहा कि मैं दर्जनों सभाओं में नीतीश जी के साथ रहा हूं. मुख्यमंत्री ने अपनी सभाओं में एक परंपरा बनाई थी. भाषण के दरम्यान जब भी अजान की आवाज आती थी, वे रूक कर अजान पूरा होने का इंतज़ार करते थे. पूरा होने के बाद ही उनका भाषण फिर से शुरू होता था.



जगन्नाथ मिश्रा ने मुंह खोला, बता दिया कि लालू प्रसाद को किसने फंसाया 

उन्होंने कहा कि सार्वजनिक सभाओं में नीतीश जी की पार्टी का प्राय: हर कार्यकर्ता इसका पालन करता रहा है. भाजपा के साथ आज के पहले वाले गठबंधन में भी यही परंपरा थी. लेकिन मंगलवार को उद्घाटन भाषण में अपनी उस पुरानी परंपरा को मुख्यमंत्री ने तोड़ दिया. नीतीश कुमार में आए इस मौलिक परिवर्तन की क्या वजह हो सकती है?

शिवानंद तिवारी यहीं पर नहीं रुके. उन्होंने मीडिया को जारी किये गये बयान में कहा कि मुझे लगता है कि पिछले दिनों, पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विवि का दर्जा के लिए नीतीश कुमार की सार्वजनिक हाथजोड़ी हो या बाढ़ के समय प्रधानमंत्री का निरीक्षण दौरा में नीतीश कुमार को पर्याप्त संकेत मिल चुका है कि नरेंद्र मोदी जी कुछ भी भूले नहीं हैं. उन्हें 2008 के भोज का न्योता वापस लेने वाला अपमान तो याद है ही साथ-साथ नीतीश जी की सभी कटोक्तियां भी उनके स्मरण में हैं. उन्होंने कहा कि नीतीश जी चतुर नेता हैं. भांप गए हैं. कल अपने सेक्युलरिज्म का चोला मुख्यमंत्री ने उतार दिया. आगे अपने में और क्या बदलाव लाने जा रहे हैं यह देखना दिलचस्प होगा.