सुशील मोदी का फिर हमला : शराब माफिया से लाभ लेते रहे हैं तेजस्वी

SUSHIL-MODI-PC
प्रेस कांफ्रेंस में सुशील मोदी

लाइव​ सिटीज डेस्क : बिहार के डिप्टी सीएम व भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी एक बार राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व उनकी फैमिली पर करारा हमला किया है. खासकर तेजस्वी यादव पर उन्होंने जमकर निशाना साधे. उन्होंने यह भी कहा कि शराब माफिया से तेजस्वी लाभ लेते रहे हैं. इसके अलावा उन्होंने नोटबंदी को देश के लिए ऐतिहासिक कदम बताया. इसी बहाने उन्होंने मायावती से लेकर ममता बनर्जी तक को निशाना बनाया. उन्होंने कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया. साथ ही बुधवार को कालाधन विरोध दिवस मनाने की बात कही.

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद बिहार सरकार के खिलाफ लगे रहे कि इतने दिनों में कोई दंगा हो जाये, गोली चल जाये और बैंक लूट हो जाये, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. उन्होंने तेजस्वी पर बेनामी संपत्ति को लेकर फिर बड़ा हमला किया. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ने उपमुख्यमंत्री बनने के एक दिन पहले यानी 9 नवंबर 2015 को एबी एक्सपोर्ट के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया था, फिर भी उन्होंने 12 फरवरी, 2016 तथा 9 फरवरी, 2016 को मेसर्स ओलिव ओवरसिज प्राइवेट लिमिटेड और नक्षत्रा लिमिटेड, यश ज्वेलर्स लिमिटेड के नाम से चेक निर्गत करते रहे.

उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि तेजस्वी यादव ने इनकम टैक्स अधिकारियों को पूछताछ में बताया कि सोने, डायमंड की जिन 5 कंपनियों ने 1-1 करोड़ के 5 करोड़ ब्याज मुक्त ऋण के रूप में दिया, उनको मैं नहीं जानता हूं. सुशील मोदी ने सवाल किया कि फिर उन कंपनियों के चेक पर तेजस्वी उप मुख्यमंत्री रहते हस्ताक्षर कैसे किया? मोदी ने आगे कहा कि तेजस्वी यादव को अमित कत्याल की कंपनी ट्रैंगल ट्रेडिंग कंपनी लिमिटेड के द्वारा 2010 में 9.5 लाख की गाड़ी उपलब्ध करायी गयी. अमित कत्याल लालू प्रसाद के दामाद शैलेश कुमार तथा बेटी मीसा भारती के साथ मेसर्स किंगडम होटल एंड रिसोर्ट प्राइवेट लिमिटेड में 2006 से 2009 तक डारेक्टर थे.

अमित कत्याल ने तेजस्वी को 30.26 लाख तथा तेजप्रताप को 55.51 लाख कर्ज देने की बात भी सुशील मोदी ने कही. उन्होंने कहा कि इस कर्ज को बाद में राइट ऑफ कर दिया गया. उसी प्रकार अमित कत्याल की कंपनी कृष रियलिटी निर्माण प्राइवेट लिमिटेड के बुक में मीसा भारती को 2.7 लाख दलाली के रूप में देते हुए दिखाया गया है.

इसके अलावा नोटबंदी के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए सुशील मोदी ने मीडिया से कहा कि कालाधन के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी. लालू परिवार की बेनामी संपत्ति को लेकर हमलोगों ने बहुत सारे खुलासे किये हैं, इसी कड़ी में एक बात सामने आयी है, जिसमें लालू परिवार ने डायमंड और गोल्ड के साथ शराब माफिया से पैसे लेने का काम किया है. वहीं कालेधन के खिलाफ भाजपा को छोड़ किसी सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया. उन्होंने कहा कि कोई उठा भी रहा है तो उसका मजाक उड़ाया जा रहा है. लालू, कांग्रेस और ममता बनर्जी आदि नेता मजाक उड़ा रहे हैं. उन्होंने कांग्रेस से भी सवाल किया है कि कालाधन के खिलाफ अभियान चलाना गलत है क्या?

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*