पॉलिटिक्स बिहार टू झारखंड : चाय-बिस्कुट से निकली बातें, तो पहुंच गयीं सियासत तक

हेमंत सोरेन से तेजप्रताप यादव ने की मुलाकात

लाइव सिटीज डेस्क : पॉलिटिक्स के लिए बस बहाना चाहिए. कुछ ऐसा ही देखने को मिला झारखंड में, जब अपने-अपने दलों के दो दिग्गज मिल बैठे चाय के टेबल पर. जब बात निकली तो दूर तलक गयी. जी हां, यहां बात कर रहे हैं बिहार से लेकर झारखंड तक की सियासत पर. चाय-बिस्कुट से निकली बातों में सियासत के सूरते हाल पर भी जमकर चर्चा हुई. इसके फोटो भी ट्विटर एकाउंट पर डाले गये हैं. ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रहे हैं.

दरअसल सोमवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव रांची में थे. वे जेल में बंद अपने पिता से मिलने गये थे. इसे लेकर तेजप्रताप रविवार को ही रांची पहुंच गये थे. रांची जब पहुंचे तो उन्होंने समय का उपयोग किया. राजद नेता तेजप्रताप यादव लगे हाथ झारखंड के विरोधी दल के नेता हेमंत सोरेन से मिलने उनके आवास पर पहुंच गये. उनसे काफी देर बात की.

अंदरखाने की मानें तो बात तो चाय-बिस्कुट से ही शुरू हुई. आप उसे फोटो में भी देख सकते हैं. लेकिन बिहार, झारखंड के अलावा केंद्र की राजनीति पर भी चर्चा होने की बात कही जा रही है. तेजप्रताप ने कहा कि सामंती सरकार के खिलाफ समाजवाद की ताकत को बरकरार रखना है. सामंती ताकतों के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी. दोनों राज्यों की स्थिति एक जैसी हो गयी है.

बता दें कि राजद नेता व बिहार के पूर्व हेल्थ मिनिस्टर तेजप्रताप यादव ने हेमंत सोरेन से मिलने के कई फोटो अपने ट्विटर एकाउंट पर भी पोस्ट किया है. वहीं दूसरी ओर झारखंड में सोमवार को विपक्ष राज्य के तीन बड़े अधिकारियों (मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, पुलिस महानिदेशक डीके पांडेय और एडीजी अनुराग गुप्ता) पर कार्रवाई की मांग पर अड़ा है. इसे लेकर झारखंड विस में हंगामा भी हुआ है. यह जगजाहिर है कि झारखंड की मुख्य सचिव राजबाला वर्मा को चारा घोटाला मामले में सीबीआई कोर्ट ने नोटिस भी जारी किया है. गौरतलब है कि ​सोमवार को ही तेजप्रताप ने अपने लालू प्रसाद से जेल में जाकर मुलाकात की.

लालू प्रसाद से मिलकर तेजप्रताप की नम हो गयीं आंखें, राजद की रणनीति पर भी हुईं बातें