सवर्ण आरक्षण पर बोले मांझी – बिहार में आरक्षण का कोटा बढ़ा कर लागू करें नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः बिहार में सवर्ण आरक्षण पर बयानों की बाढ़ आ गई है. महागठबंधन में दल आपस में भी एक दूसरे से अलग राय रख रहे हैं. कांग्रेस के कौकब कादरी के बाद अब हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के मुखिया जीतन राम मांझी का बयान सामने आया है. मांझी ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि केंद्र सरकार ने जैसे फैसला लेने का काम किया है, वैसे ही अब बिहार सरकार भी इस मामले पर जल्द से जल्द फैसला ले.

जीतन राम मांझी ने कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में आरक्षण का कोटा बढ़ा कर लागू करें. उन्होंने कहा कि सवर्ण आरक्षण पर महागठबंधन के बैठक के बाद ही कोई फैसला होगा. मांझी ने कहा है कि आरक्षण पर फैसला जातिगत जनगणना के आधार पर हो.

क्या बोले कांग्रेस के कौकब कादरी

बिहार कांग्रेस के सीनियर लीडर कौकब कादरी का एक बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने बिहार में जल्द सवर्ण आरक्षण लागू करने की मांग की है. कौकब कादरी ने कहा है कि बिहार में सरकार जल्द से जल्द सवर्ण आरक्षण को लागू करे. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जब सवर्ण आरक्षण लागू कर दिया तो बिहार में इसे लाने में क्यों देर हो रही है. इसके साथ ही साथ उन्होंने कहा कि सरकार सभी दलों से बात कर जल्द सवर्ण आरक्षण को लोगू करे.

इधर राजद की ओर से लगातार सवर्ण आरक्षण का विरोध किया जा रहा है. आरक्षण के मुद्दे पर राज्यसभा में चर्चा के दौरान राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा ने बिल का खुलकर विरोध किया. उन्होंने कहा कि इस बिल को लेकर सरकार की नीति और नीयत दोनों के खिलाफ उनकी पार्टी है, इस तरह के बिल से साफ होता है कि सरकार ओबीसी और दलित विरोधी है. हालांकि इससे पहले मंगलवार को भी लोकसभा में आरजेडी सांसद जय प्रकाश नारायण यादव ने सवर्ण आरक्षण का खुला विरोध किया था.

About Md. Saheb Ali 4745 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*