पप्पू फिर बोले : नीतीश अनुकंपा के CM, शिक्षा सुधार नहीं कर सकते तो पद छोड़ दें

पटना : जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने आरोप लगाया है कि नीतीश कुमार अनुकंपा के मुख्‍यमंत्री हैं. आज पटना के गर्दनीबाग में पार्टी की ओर से आयोजित धरना के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि पटना विश्‍वविद्यालय के शताब्‍दी समारोह में मुख्‍यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पटना विश्‍वविद्यालय को केंद्रीय विश्‍वविद्यालय का दर्जा देने की मांग की थी, जिसे प्रधानमंत्री ने मंच पर ही ठुकरा दिया. विशेष राज्‍य के दर्जे की मांग को केंद्र सरकार पहले ही ठहरा चुकी है.

सांसद पप्पू यादव ने कहा कि मुख्‍यमंत्री कह रहे हैं कि उच्‍च शिक्षा राज्‍य सरकार के अधीन नहीं है. विश्‍वविद्यालय स्‍वायत हैं. तो फिर नीतीश कुमार सरकार क्‍यों चला रहे हैं. मुख्‍यमंत्री शिक्षा में सुधार नहीं कर सकते हैं तो उन्‍हें पद छोड़ देना चाहिए. छात्रों के भविष्‍य से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए.

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य राज्‍य मंत्री अश्विनी चौबे के बिहार के मरीजों के खिलाफ दिये बयान की निंदा करते हुए सांसद ने कहा कि मंत्री के बयान से बिहार का अपमान हुआ है. उन्हें माफी मांगनी चाहिए, अन्‍यथा पार्टी उनके खिलाफ आंदोलन करेगी. शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार के मुद्दों पर सांसद ने कहा कि बिहार में शिक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य दोनों माफियाओं के हाथों में पहुंच गया है. दोनों का व्‍यवसायीकरण हो गया है और इसमें आम लोगों के हितों की उपेक्षा की जा रही है.

बाढ़ की चर्चा करते हुए सांसद ने कहा कि बाढ़ व गाद से मुक्ति के बिना बिहार का विकास नहीं हो सकता है. दियारा और टाल क्षेत्रों के विकास करके ही आर्थिक प्रगति को गति दी जा सकती है. इस दौरान सांसद ने कहा कि ‘रोजगार नहीं तो सरकार नहीं’ सम्‍मेलन आगामी 9 नवंबर को पटना में होगा.

पार्टी की ओर से आयोजित धरना को पार्टी के राष्‍ट्रीय प्रधान म‍हासचिव एजाज अहमद, राष्‍ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्‍पू, युवा परिषद के प्रदेश म‍हासचिव रजनीश तिवारी, छात्र परिषद के अखिलेश यादव सहित कई नेताओं ने संबोधित किया. इसमें बड़ी संख्‍या में पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*