PUSU Election : BJP के बाद अब राजद व कांग्रेस ने भी कहा- प्रशांत किशोर पर हो कार्रवाई

लाइव सिटीज डेस्क : पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव का काउंट डाउन शुरू हो गया है. बस रात भर की दूरी है. सुबह 8 बजे से वोटिंग शुरू हो जाएगी. वोटिंग के बाद लगे हाथ काउंटिंग भी हो जाएगी. लेकिन यह चुनाव पूरी तरह सियासी हो गया है. वहीं इस चुनाव के केंद्र बिंदु में अचानक से जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर आ गए हैं. वे विरोधी दलों के अलावा बीजेपी और उनकी विंग भाजयुमो और एबीवीपी के निशाने पर आ गये हैं.

मंगलवार को तो बीजेपी ने एक कदम आगे बढ़ते हुए प्रशांत किशोर को गिरफ्तार करने की मांग कर दी. अब उसी के सुर में सुर मिलाते हुए राजद और कांग्रेस ने भी कहा कि प्रशांत किशोर पर कार्रवाई की जाए. आखिर इस चुनाव की घड़ी में वे पीयू के वीसी से मिलने के लिए क्यों गए. दोनों दलों ने प्रशांत किशोर की पटना यूनिवर्सिटी के वीसी रासबिहारी सिंह से मुलाकात को गलत ठहराया.

राजद संसदीय दल के नेता जयप्रकाश नारायण यादव ने लाइव सिटीज से बात करते हुए कहा कि प्रशांत किशोर ने बिहार की राजनीति में घिनौना काम किया है. लोकतंत्र के इतिहास में इससे बड़ा घृणित काम कुछ नहीं होगा. उन्होंने कहा कि अपनी राजनीतिक गंदगी को प्रशांत किशोर ने खुद ही उजागर कर दिया. बांका के राजद सांसद ने कहा कि छात्र संघ चुनाव में स्टूडेंट्स इसका करारा जवाब दे.

एक बार फिर पटना में आ गया PK, पर इस बार आमिर खान नहीं हैं इसमें, हुआ पुतला दहन

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता व एमएलसी प्रेमचंद मिश्रा ने भी प्रशांत किशोर पर जमकर हमला किया है. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशारे व वीसी की मुलाकात कहीं से भी जायज नहीं है. इसकी जांच होनी चाहिए. साथ ही उन पर कार्रवाई होनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि यह सब सीएम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर हो रहा है.

पटनाः पीरबहोर थाने पर बीजेपी नेताओं का धरना, बोले- प्रशांत किशोर को गिरफ्तार करे पुलिस

गौरतलब है कि सोमवार को शाम में जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने पीयू के वीसी से मुलाकात की. इसकी जानकारी मिलते ही छात्रों ने उन्हें वीसी आवास में ही घंटों घेरे रखा. भारी सुरक्षा के बीच वे आवास से निकले तो छात्रों ने उनकी गाड़ी पर पथराव किया. इसमें उनकी कार के शीशे फूट गये. इसे लेकर आज दिन भर राजनीतिक बखेड़ा पटना में चलता रहा.