‘मिट्टी सुरक्षित रखी है, सृजन के दुर्जनों की कब्र पर डाल दी जाएगी’

पटना (नियाज़ आलम) : राजद ने जदयू के लिखे गुनाहनामा पर जबरदस्त पलटवार किया है. पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन गगन ने कहा है कि जदयू अपनी मिट्टी की चिन्ता करे. राजद कार्यकर्ताओं द्वारा लाई गई मिट्टी सुरक्षित रखी गई है, इसे सृजन के दुर्जनों के विसर्जन के बाद उनकी कब्र पर डाल दी जाएगी, ताकि भविष्य मे कोई सृजन जैसा घोटाला दोबारा नही करे.

राजद नेता ने कहा कि घोटाला तो उन नाखूनों और बालों का हुआ है, जिसे बिहार के लोगों से एकत्रित कर डीएनए जांच के लिये दिल्ली में प्रधानमंत्री को भेजा गया था. आज तक बिहार के लोगों को यह नही बताया गया कि उस जांच मे किसके डीएनए में गडबडी पाई गई. उन्होंने कहा कि जदयू को राजद की बजाय अपनी चिन्ता करनी चाहिए. जिनके अस्तित्व पर ही आज खतरा मंडरा रहा है.

gagan-rjd
चितरंजन गगन, राजद प्रवक्ता

उन्होंने कहा कि जो पार्टी लोकसभा मे कभी 13 सीटों पर जीती थी, आज उसे चार सीट पर भी लडने के लिये भाजपा की कृपा की जरूरत है. बता दें कि जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू एंड कंपनी के नाम गुनाहनामा में लिखा था कि रैली में लालू जी आपको अपने पारिवारिक, आर्थिक भ्रष्टाचार के आरोपी पुत्र को विभिन्न दलों के बड़े नेताओं के ऊपर तरजीह देकर उनकी छद्म राजनैतिक औकात का अहसास कराते हुए ताजपोशी करनी थी, जो आपने कर दी लेकिन आपके आदेश पर कार्यकर्ताओं द्वारा लाई गई मिट्टी के लिए ना तो मंच से धन्यवाद दिया और न ही चर्चा करना आपके पूरे परिवार ने मुनासिब समझा.

उन्होंने आगे लिखा है कि आखिर कार्यकर्ताओं (असामाजिक तत्व सहित) का गुनाह क्या है? राजद कार्यकर्ता (असामाजिक तत्व सहित) यह जानने को बेचैन होंगे कि 27 अगस्त को गांदी मैदान में आयोजित रैली में कार्यकर्ताओं की मेहनत से संग्रहित की गई मिट्टी के लिए मंच से धन्यवाद क्यों नहीं दिया गया? मिट्टी को गांधी मैदान में रैली के दौरान प्रदर्शित क्यों नहीं किया गया? क्योंकि मिट्टी से आपके (लालू प्रसाद) राजनैतिक नाश की प्रक्रिया प्रारम्भ हुई है, तो संग्रहित मिट्टी को किस नामी-बेनामी संपत्ति में इस्तेमाल किया गया. जमीन का खाता नंबर, खसरा नंबर, जमाबंदी एवं मालिकाना हक का दस्तावेज जाहिर करें, जिससे कार्यकर्ताओं (असामाजिक तत्व सहित) को आत्मिक संतुष्टि मिल सके.

यह भी पढ़ें –
मिशन 2019 की उठापटक : भाजपा की झोली में जदयू के लिए हैं 5 सीटें
गुजारिशनामा और कबूलनामा के बाद अब ‘लालू एंड कंपनी’ का गुनाहनामा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*