समस्तीपुर में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही, सड़क के किनारे खुले में फेंका गया पीपीई कीट और ग्लब्स, लोगों में संक्रमण का बढ़ा खतरा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कोविड 19 जैसे वैश्विक महामारी से बचाव के लिए सरकार की तरफ से कई तरह के गाइडलाइंस जारी किए गए हैं। वहीं संक्रमण से बचाव के लिए लोगों से एतियात बरतने की अपील भी की जा रही है। लेकिन समस्तीपुर में स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है। जहां सड़क किनारे खुले में काफी संख्या में यूज्ड ग्लव्स, पीपीई किट सहित मेडिकल में यूज की गई अन्य सामान फेंक दिए गए हैं। जिस जगह पर इन सामानों को फेंका गया है उसके आस पास बैंक, कॉलेज, कई अस्पताल व घर बने हैं। ऐसे में इस तरह की लापरवाही लोगों के लिए खतरा उत्पन्न कर सकता है।

इसको लेकर बैंक कर्मी गौतम कुमार का कहना है कि यहां पर के आसपास के लोग जो रह रहे हैं, उनको भी ध्यान में नहीं है। लेकिन बहुत से लोग यहां पर आकर बोले हैं कि पीपीई किट है, गंदगी है, पास में बैंक है, घर है, दुकान है लोग बीमार पड़ सकते हैं। यहां पर एक दो हॉस्पिटल है। वहां के लोग यहां पर इसे फेंक देते हैं। हमलोगों को हमेशा डर बना रहता है। कभी भी कोरोना की चपेट में आ सकते हैं। हमलोग बहुत बार मना करते हुए भी सभी यहां फेंकते हैं। बैंक कर्मी ने कहा कि नगर परिषद को भी बताएं हैं, लेकिन निदान नहीं निकल पाया है।

वहीं स्थानीय युवक प्रणव कुमार सिंह का कहना है कि इससे गंदगी फैलेगा, बगल में घर है, बाल बच्चा रह रहा है, इससे तो इन्फेक्शन ही फैलेगा। सुबह में भी सर लोग आए थे। नगर निगम को हम फोन किये थे। इस पर कोई  सुनवाई नहीं ले रहा है। जिला प्रशासन भी बात नहीं मान रही है। सरकार इतना सुविधा दे रही है, परंतु कोई सुविधा यहां नहीं मिल रही है।