कोरोनाकाल में किये गये प्रधानमंत्री के कार्यों को दुनिया मान रही लोहा : मंगल पांडेय

लाइव सिटीज, पटना : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने उप स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को आयुष्मान भारत-स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्र में परिवर्तित करने और ब्लैक फंगस की दवा को कर मुक्त करने पर केंद्र सरकार का स्वागत किया है. उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डाॅ हर्षवर्द्धन एवं जीएसटी कांउसिल के प्रति आभार जताया है. साथ ही उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया कोरोनाकाल में किये गये प्रधानमंत्री के कार्यों को लोहा मान रही है.

मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि जी-7 की शिखर बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के हर नागरिक के लिए एक जैसी स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए वन अर्थ-वन हेल्थ की परिकल्पना पेश कर वैश्विक नेताओं का समर्थन भी हासिल कर लिया. उन्होंने कहा कि कोरोना से उत्पन्न स्थिति और संभावित तीसरी लहर को देखते हुए केंद्र सरकार की दीर्घकालीन योजनाएं स्वास्थ्य के क्षेत्र में दूरगामी प्रभाव पड़ेगा. केंद्र सरकार जहां तीसरे वेब को लेकर स्वास्थ्य क्षेत्र को मजबूत करने की दिशा में सतत प्रयत्नशील है, वहीं बिहार सरकार भी अपने स्तर से सभी आवश्यक संसाधनों को जुटाने के अलावा स्वास्थ्य केंद्रों पर लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है.

मंगल पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार ने दिसंबर 2022 तक देश के एक लाख 50 हजार उप स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को आयुष्मान भारत-स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्र में परिवर्तित करने का निर्णय लिया है, जो सूदूर क्षेत्रों के लोगों के लिए न सिर्फ लाभदायी होगा, बल्कि संबंधित केंद्रों पर आयुष्मान भारत योजना की भी शत-प्रतिशत लाभ मिलेगा. इसके अलावा कोरोना से जुड़ी राहत सामग्रियों पर बने मंत्री समूह के प्रस्ताव पर जीएसटी कांउसिल की मुहर लगने से जहां ब्लैक फंगस की दवा लोगों को टैक्स फ्री उपलब्ध होगी, वहीं अन्य दवाओं और आक्सीजन कंसंट्रेटर जैसे उपकरणों पर टैक्स घटने से देश और राज्यवासियों को इलाज में काफी राहत मिलेगी.