इंटर छात्राओं का परीक्षा केंद्र होम टाउन में ही, नये पैटर्न की होगी ट्रेनिंग

anand-kishor
BSEB अध्यक्ष आनंद किशोर (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार बोर्ड ने फिर एक बार बड़ी घोषणा की है. यह घोषणा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति और ​बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक में बोर्ड अध्यक्ष ने की है. अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि सेंटअप एग्जाम से पहले सभी परीक्षकों को विशेष ट्रेनिंग दी जायेगी. वहीं इंटर में भी छात्राओं का परीक्षा केंद्र उसके गृह अनुमंडल में ही होगा. अलावा मैट्रिक परीक्षा से लेकर कई बिंदुओं पर बातें हुई.

बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने संघ के प्रतिनिधि मंडल के साथ हुई बैठक में कहा कि मैट्रिक जांच परीक्षा (सेंटअप एग्जाम) के पहले सभी परीक्षकों के लिए विशेष प्रशिक्षण की व्यवस्था की जायेगी. बैठक की
जानकारी देते हुए बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के मीडिया प्रभारी अभिषेक कुमार ने बताया कि बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ प्रत्येक जिले से विषयवार ट्रेंड एवं अनुभवी शिक्षकों की सूची अगले दो दिनों के अंदर बिहार बोर्ड को उपलब्ध करा देगा.

प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक करते बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर

उन्होंने कहा कि इन शिक्षकों का 5 से 7 नवंबर तक पटना में तीन दिवसीय कार्यशाला सह प्रशिक्षण शिविर का आयोजन बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से किया जायेगा. इसमें परीक्षा के नये पैटर्न के साथ-साथ मूल्यांकन की भी ट्रेनिंग दी जायेगी. ये शिक्षक अपने-अपने जिलों में 9, 10 और 12 नवंबर को आयोजित होने वाली कार्यशाला सह प्रशिक्षण शिविर में मास्टर ट्रेनर के रूप में सभी शिक्षकों को ट्रेनिंग देंगे.

इस बैठक में यह भी तय हुआ कि जांच परीक्षा पूरी तरह से आगामी वार्षिक परीक्षा के पैटर्न पर ही ली जायेगी. साथ ही आॅब्जेक्टिव्स प्रश्नों के लिए ओएमआर का प्रारूप समिति द्वारा संघ को उपलब्ध कराया जायेगा. इसे संघ प्रश्न पत्रों के साथ-साथ ओएमआर की छपाई करा कर स्कूलों को उपलब्ध करायेगा. बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रतिनिधिमंडल में संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडेय, महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह, संयुक्त सचिव सुरेश प्रसाद राय, मीडिया प्रभारी अभिषेक कुमार, वामेश्वर शर्मा आदि शामिल थे.
बैठक की खास बातें
– मैट्रिक परीक्षा केंद्र की तरह छात्राओं के इंटर परीक्षा केंद्र भी उन्हीं के अनुमंडल में बनाये जायेंगे.

– परीक्षकों के पारिश्रमिक का भुगतान पूर्व की तरह मूल्यांकन केंद्र पर ही अंतिम दिन करने की व्यवस्था की जायेगी.

– रजिस्ट्रेशन में विद्यालय को किसी भी प्रकार का कोई शुल्क एजेंसी को नहीं देना है. कोई प्रॉब्लम आती है तो बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर स्टूडेंट्स तुरंत करें.

– मूल्यांकन एवं परीक्षा केंद्रों को कंप्यूटराइजेशन किया जायेगा, जिससे बोर्ड से जुड़े कार्यों में प्रॉब्लम नहीं होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*