राजद विधायक की बहन के हत्यारों को मिली उम्रकैद की सजा, दो साल पहले हुई थी हत्या

लाइव सिटीज डेस्क : राजद विधायक सरोज यादव की बहन की हत्या के मामले में बड़ी खबर आ रही है. कोर्ट ने मंगलवार को इस मामले में सजा सुनाई है. कोर्ट ने तीनों हत्यारों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. हत्या की घटना 2 साल पहले हुई थी. छेड़खानी का विरोध करने पर बदमाशों ने राजद विधायक सरोज यादव की बहन शैल देवी की आॅटो में बेहरमी से पिटाई की थी. पीएमसीएच में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी थी. तीनों बदमाशों में से दो ने पहले ही कोर्ट में सरेंडर कर दिया था. वहीं एक को पुलिस ने बाद में गिरफ्तार किया था.

बिहार के बड़हरा विधानसभा क्षेत्र से राजद विधायक सरोज यादव की बहन शैल देवी की हत्या मामले में मंगलवार को भोजपुर में एडीजे के कोर्ट ने सुनवाई की. कोर्ट ने तीनों आरापियों को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई है. बता दें कि पुलिस के भारी दवाब पर इस मामले में दो आरोपी मिथिलेश और संतोष ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था, जबकि एक की गिरफ्तारी हुई थी.

गौरतलब है कि दो साल पहले इसी अप्रैल माह में यह घटना हुई थी. 13 अप्रैल 2016 का मामला है. रात में राजद विधायक सरोज यादव की बहन आरा में ऑटो में सवार हुई. वह चांदी बाजार जा रही थीं. उसी आॅटो में रास्ते में अन्य युवक भी चढ़ गये. तभी अचानक ऑटो ड्राइवर ने रास्ता बदल लिया. वह गलत रूट पर जाने लगा. इस पर शैल देवी ने विरोध किया. ऑटो में सवार ड्राइवर समेत तीन और लोगों ने उनके साथ मारपीट की और ऑटो छोड़कर फरार हो गए.

मुजफ्फरपुर में पत्थर से कुचकर नाबालिग की हत्या मामले में जांच को पहुंचे DSP

गंभीर रूप से जख्मी महिला शैल देवी को पटना के पीएमसीएच में भर्ती कराया गया. लेकिन, वह नहीं बच सकी. इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी. बाद में इस मामले पर सियासत भी तेज हो गयी थी. तब बिहार में महागठबंधन की सरकार थी और इस हत्या की घटना पर ​भाजपा हमलावर बनी हुई थी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*