नालंदा में चौकीदार की हत्या, बदमाशों ने सीने में उतार दी गोली, SDPO आॅफिस में था तैनात

लाइव सिटीज डेस्क : नालंदा से बड़ी खबर आ रही है. राजगीर अनुमंडल क्षेत्र के छबिलापुर थानांतर्गत पथरौरा पंचायत स्थित केसरीबिगहा गांव के लगभग 45 वर्षीय पुलिस चौकीदार कमलेश यादव की गुरुवार की देर संध्या गोली मारकर हत्या कर दी गई. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक उक्त चौकीदार राजगीर के एसडीपीओ के कार्यालय में वर्षों से चौकीदार पद पर कार्यरत था. घटना से इलाके में सनसनी मच गयी है, वहीं पुलिस महकमे में इस घटना से हलचल मच गया है. बताया जाता है कि अपराधियों ने चौकीदार के सीने में गोली मारी है. घटना की जानकारी मिलते ही सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंच गये हैं. बता दें कि कल सीवान में होमगार्ड के जवान की बदमाशों ने हत्या कर दी थी.

बताया जाता है कि रोज अपनी ड्यूटी के क्रम में घर से आवागमन करता था. इस दौरान उसके घर लौटने के क्रम में सिलाव थाना क्षेत्र स्थित कटहैन छोटकी पुल के समीप उसे अज्ञात अपराधियों ने सीने में गोली मार दी. उसे इलाज के लिए राजगीर अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.



मृत चौकीदार के पुत्र लालू व सल्लु कुमार ने बताया कि गांव के ही एक व्यक्ति से सवा बीघा जमीन ईजारा पर खेती बाड़ी के लिए ली गयी थी. इसके कारण गांव के कुछ लोगों से विवाद चल रहा था. इस क्रम में राजगीर डीएसपी संजय कुमार व थानाध्यक्ष उदय शंकर मामले की छानबीन के क्रम में घटनास्थल व अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचे.

मृतक के पुत्र से मिली जानकारी के अनुसार संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारी की कार्रवाई पुलिस ने शुरू कर दी है. उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है. वहीं घटना को लेकर पुलिस महकमे में हलचल मच गया है. उधर स्थानीय लोग भी दहशत में हैं. लोगों का कहना है कि जब पुलिस महकमे के लोग सुरक्षित नहीं हैं, तो आम लोगों की सुरक्षा क्या होगी. बता दें कि बिहार के सीवान जिले में भी बुधवार को इसी तरह की घटना हुई थी. वहां होमगार्ड के जवान की हत्या कर दी गयी थी.