बिहार : राजद का बिहार बंद 18 दिसंबर को , बालू-गिट्टी के नये नियम के खिलाफ किया प्रदर्शन

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में एनडीए की सरकार बनने के बाद से बालू को लेकर जंग छिड़ी हुई है. बालू माफियाओं पर लगातार कार्रवाई की जा रही है. सरकार बालू-गिट्टी के नये नियम ला रहे हैं. वहीं बालू के सही से नहीं मिलने से मजदूरों को काम नहीं मिल रहा है. इसे लेकर विपक्ष हमलावर बना हुआ है. इसी को लेकर राजद की ओर से सोमवार को पटना में प्रदर्शन किया गया. सबसे बड़ी बात कि राजद ने बालू-गिट्टी के नये नियम के विरोध में 18 दिसंबर को बिहार बंद की घोषणा की है. सरकार का ध्यान आकृष्ट करने के लिए राजद ने यह विरोध प्रदर्शन किया है.

बालू-गिट्टी के नये नियम के खिलाफ सोमवार को राजद की ओर से राजधानी पटना में प्रदर्शन किया गया. इसका नेतृत्व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव व पूर्व मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने किया. यह प्रदर्शन बिहार में लाये जा रहे बालू-गिट्टी के नये नियम के खिलाफ किया गया. प्रदर्शन के दौरान नेताओं ने नीतीश सरकार पर लगातार निशाना साधा. वहीं बालू के लिए लाये जा रहे नये नियम को मजदूर विरोधी बताया.



प्रदर्शन में ही नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार बंद का एलान करते हुए कहा कि नीतीश सरकार की गलत नीतियों को लेकर वे जनता के बीच जाएंगे. उन्होंने 18 दिसंबर को बिहार बंद की घोषणा की है. पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सुबह से ही पटना की सड़कों पर उतर गये और सरकार विरोधी नारे भी लगाए. वहीं राजद के वरीय नेता रघुवंश सिंह नेे कहा कि मजदूरों की इस लड़ाई को वे दिल्ली तक ले जाएंगे.

रघुवंश सिंह ने कहा कि सरकार की गलत नीति के कारण आज हजारों मजदूर बेरोजगार हो गए हैैं. उन्हें काम नहीं मिल रहा है. काम के अभाव में मजदूर भूखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं. उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने भी निर्देश दे रखा है. इसके बाद सरकार नहीं मान रही है. उन्होंने कहा कि बालू-गिट्टी के अभाव में कंस्ट्रक्शन का काम ठप है. वहीं राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि निर्माण क्षेत्र पर संकट छा गया है. मजदूर निठल्ले बैठे हुए हैं. उन्हें काम नहीं मिल रहा है. उन्होंने कहा कि जुलाई से बालू और गिट्टी की बंदी के चलते निर्माण क्षेत्र पर भारी संकट छाया हुआ है.

उधर राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी भी नीतीश सरकार पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि जो लोग घोटाले में शामिल हैं, वे क्या आरोप लगाएंगे. बालू माफिया को संरक्षण देने के सवाल पर राजद नेेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि सृजन और शौचालय माफिया को संरक्षण देने वाले और दलित विकास मिशन घोटाले में शामिल लोग हमलोगों पर क्या घोटाले का आरोप लगाएंगे?