GOOD NEWS : अगर घर में बिजली कनेक्शन नहीं है, तो इन फोन नंबरों पर करें कॉल, तुरंत होगा काम

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में नीतीश सरकार की ओर से सात निश्चय योजना के तहत पानी के साथ ही हर घर में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. इसके साथ ही निर्बाध बिजली मिले. इसके साथ ही बाद में केंद्र ने सौभाग्य योजना के तहत 2019 तक हर घर बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया. लेकिन बिहार में नीतीश सरकार ने एक और कदम तेजी से बढ़ाया है. बिहार के ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सूबे के सभी जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखा है तथा दो फोन नंबर भी जारी किया है.

जानकारी के अनुसार सरकार का लक्ष्य है कि बिहार का कोई भी घर बिजली कनेक्शन से छूटे नहीं. इस दिशा में तेजी से बिजली विभाग काम भी कर रहा है. ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने पत्र लिखकर तमाम जनप्रतिनिधियों से कहा है कि यदि बिजली कनेक्शन के लिए कोई घर छूटा है तो उसकी सूचना दें और उस घर में बिजली को पहुंचाने में विभाग को मदद करें.

इतना ही नहीं, ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव अमृत प्रत्यय ने इसके लिए दो फोन नंबर भी जारी किये हैं. विभाग की ओर से फोन नंबर 7368800299 और 7632996740 जारी किये गये हैं. प्रधान सचिव ने सूबे के लोगों से अपील की है कि यदि किसी के घर में अब तक बिजली नहीं पहुंची है तो घर के मालिक अथवा उन्हें जाननेवाले इन दोनों विभागीय नंबरों पर तुरंत कॉल करें. विभाग की ओर से वैसे घरों में बिजली पहुंचा दी जाएगी.

खास बात कि बिहार में अब तक 99.5 परसेंट घरों में बिजली पहुंच गयी है. सरकार की कोशिश है कि बाकी के 0.5 परसेंट घरों में भी बिजली पहुंच जाए. इसके बाद उन घरों में निर्बाध बिजली उपलब्ध कराने पर काम हो. बता दें ​कि भले ही केंद्र सरकार का सौभाग्य योजना के तहत 2019 तक हर घर बिजली पहुंचाने का टारगेट है, लेकिन नीतीश सरकार ने काफी पहले ही सात निश्चय योजना के तहत इसी साल दिसंबर तक यह लक्ष्य रखा है. और, इस पर अधिकारियों को सख्त निर्देश भी है. बताया जाता है कि इसी के तहत विभाग ने बुधवार को यह पत्र भी जारी किया है.

गौरतलब है कि पिछले दिसंबर तक बिहार के सभी गांवों में बिजली पहुंच गई थी और उसी समय नया टारगेट रखा गया कि दिसंबर 18 तक हर घर में बिजली पहुंचा दी जाए. एक भी घर अंधेरे में नहीं रहे. इसी के तहत विभाग ने इसी साल मई तक हर गांव के हर टोले को बिजली से जोड़ दिया. हर टोले में बिजली के पोल और तार पहुंचाये गये. खास बात कि अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, खगड़िया, बेगूसराय, शेखपुरा, मुंगेर, जमुई, नवादा, नालंदा, गया, भोजपुर, गोपालगंज व पश्चिम चंपारण में तो बिजली विभाग ने 100 परसेंट टारगेट पा लिया है. बाकी जिलों में 100 परसेंट टारगेट की कवायद तेजी से चल रही है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*