पिछले 15 सालों में कितने लोगों को नौकरी मिली और हमने कितनों को दिया, सब आपके सामने है- नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार चुनाव के प्रचार में जुटे हुए हैं. आज उन्होंने सुपौल के निर्मली विधानसभा क्षेत्र में जनसभा की. साथ ही वहां से प्रत्याशी अनिरुद्ध प्रसाद यादव के लिए वोट मांगा. नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में विकास का काम एनडीए की सरकार ने किया है. उन्होंने कहा कि हमने कितना काम किया सब आपके सामने है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले राज्य में कितना अपराध होता था, भ्रष्टाचार कितना बढ़ा हुआ था. इन सबपर हमने लगाम लगाया. हमने भ्रष्टाचारियों को जेल में डाला. हमने अपराध पर भी कितना अंकुश लगाया. उन्होंने कहा कि कुछ लोग तो गड़बड़ करेगा ही उसका स्वभाव ही है उल्टा-पुल्टा काम करने का होता है. लेकिन हमारी कोशिश होती है कि हम उसपर भी नियंत्रण कर सके. उन्होंने कहा कि पहले कितने दंगे होते थे, हर जगह सांप्रदायिक दंगा होता था. लेकिन हमने उसपर कितना नियंत्रण पाया. हमने समाज में भाईचारा स्थापित किया. आज लोग एक दूसरे के साथ मिलकर रहते हैं. उन्होंने कहा कि हाल ही आंकड़ा उठाकर देख लीजिए. इतना बड़ा राज्य और इतनी बड़ी आबादी होने के बावजूद बिहार अपराध मामले में 23वें स्थान पर है.



सीएम ने आगे कहा कि पहले बिहार में किस प्रकार की स्थिति थी, आप सभी को मालूम है. जो नौकरी करते थे उन्हें सैलरी टाइम पर नहीं मिलती थी और कभी नहीं भी मिलती थी. शिक्षकों का कितना बुरा हाल था. उन्होंने कहा कि पहले शिक्षकों को 6 महीने में एक बार सैलरी मिलती थी. लेकिन हमने अपने न्याय यात्रा में ही कहा था कि अगर हमें काम करने का मौका मिला तो हम सब ठीक कर देंगे और सबकुछ शुरू में कर दिया जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि हमने धीरे-धीरे सबकुछ सुधार दिया.

बिहार के मुखिया ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले 15 सालों में कितने लोगों को नौकरी मिली थी. आपने सिर्फ 95 हजार लोगों को रोजगार दिया. उन्होंने कहा कि हमलोगों को जब काम करने का मौका मिला तब हमने 6 लाख से अधिक लोगों को नौकरी दी. उसके अलावा सरकार सुविधा भी दे रहे हैं. हम लगातार नौकरी का सृजन भी कर रहे हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को नौकरी मिल सके. इसके लिए कितनी कमीशन की टीम बनाई गई है. उन्होंने कहा कि हमने न्याय के साथ विकास का काम किया है. हमारे लिए पूरा बिहार एक परिवार है और सबकी सेवा करना हमारा धर्म है.