इंटर-मैट्रिक एग्जाम: कोविड टीका प्रमाणपत्र के बाद ही परीक्षा में भाग लेने की दी जाएगी अनुमति

लाइव सिटीज पटना: कैमूर/भभुआ (ब्रजेश दुबे): परीक्षा को कदाचार मुक्त व बेहतर तरीके से संपन्न कराने के लिए केंद्र अधीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं. कोविड टीका प्रमाण पत्र की जांच के बाद ही परीक्षा में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी. दरअसल शनिवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी विजय कुमार प्रसाद की अध्यक्षता में इंटरमीडिएट एवं वार्षिक माध्यमिक परीक्षा की तैयारियों को लेकर सभी केंद्र अधीक्षकों के साथ बैठक की गई.

जिसमें जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना दयाशंकर सिंह, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी भभुआ और मोहनिया उपस्थित रहे. परीक्षा को कदाचार मुक्त एवं शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने के लिए कई निर्देश दिए गए. बता दें कि इंटरमीडिएट परीक्षा 1 से 17 फरवरी तक जिले के 24 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित होगी. इस परीक्षा में 21,681 परीक्षार्थी शामिल होंगे. जिसमें 10,910 छात्राएं तथा 10,771 छात्र हैं.

छात्राओं के लिए कुल 15 परीक्षा केंद्र तथा छात्रों के लिए 9 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. इंटरमीडिएट परीक्षा में मोहनिया अनुमंडल की छात्राएं मोहनिया अनुमंडल मुख्यालय में ही परीक्षा देंगी. शेष सभी छात्र एवं छात्राएं भभुआ जिला मुख्यालय के परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देंगे. चुनाव के आदर्श मतदान केंद्र के तर्ज पर बालिकाओं के लिए आदर्श परीक्षा केंद्र बनाया गया है.

वार्षिक माध्यमिक परीक्षा के लिए जिले में कुल 26 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. जिसमें कुल 30,322 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे. परीक्षा में भाग लेने वाले 15 से 18 आयु वर्ग के सभी परीक्षार्थियों को कोविड टीका लेना अनिवार्य कर दिया गया है.इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी ने सभी परीक्षार्थियों एवं अभिभावकों से अपील किया है कि सभी अपने बच्चों का टीका लगवा लें.