JDU की तीखी प्रतिक्रिया, ‘ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहते पीके नहीं कर सकते ममता बनर्जी के लिए काम’

फाइल फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और रणनीतिकार प्रशांत किशोर के पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के साथ काम करने पर JDU ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. पार्टी प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा है कि प्रशांत किशोर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं. ऐसे में इस तरह की कोई भी बात बिना राष्ट्रीय अध्यक्ष की इजाजत के यह संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि वैसे JDU को इस बात की अभी सूचना नहीं मिली है.

अजय आलोक ने एक निजी न्यूज़ चैनल से कहा कि व्यक्तिगत तौर पर कोई भी किसी को सलाह दे सकता है, लेकिन पार्टी के पद पर रहते हुए ये संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होता है तो इसके लिए पार्टी की कार्यसमिति और खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार आगे तय करेंगे.

बता दें कि सूत्रों से ऐसी खबर मिल रही है साल 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए ममता बनर्जी और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर में डील हुई है. प्रशांत किशोर अब ममता बनर्जी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे. इसको लेकर आज यानि गुरुवार को प्रशांत किशोर और ममता बनर्जी की मीटिंग हुई है. करीब 2 घंटे तक दोनों में बातचीत हुई.

ममता बनर्जी और प्रशांत किशोर

गौरतलब है कि 2019 लोकसभा चुनाव में प्रशांत किशोर आंध्र प्रदेश में YSR कांग्रेस पार्टी से जुड़े रहे. आंध्र प्रदेश में लोकसभा चुनाव के साथ-साथ विधानसभा के चुनाव भी हुए थे. चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की इस प्रचंड और ऐतिहासिक जीत हुई. लोकसभा चुनाव 2014 में बीजेपी के लिए काम करने वाले प्रशांत किशोर ने एक बार फिर से ये साबित कर दिया कि भारत में चुनाव को लेकर रणनीति बनाने में उनका कोई तोड़ नहीं है.

प्रशांत किशोर ने की ममता बनर्जी से मुलाकात, टीएमसी के लिए तैयार करेंगे चुनावी रणनीति

आपको याद दिला दें कि बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में भी प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार के मुख्य चुनावी रणनीतिकार के रूप में काम किया था. हालांकि 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए काम कर रहे प्रशांत किशोर की रणनीतियों पर जनता का फैसला भारी पड़ गया. जिसके बाद प्रशांत किशोर ने अपने काम को बड़े पैमाने पर सीमित कर दिया था.

About परमबीर सिंह 1500 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*