प्रशांत किशोर को लेकर JDU नरम, ममता से मुलाकात को RCP सिंह ने बताया निजी मामला

RCP सिंह

नालंदा, लाइव सिटीज : जदयू के राष्ट्रीय महासचिव सह राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने पार्टी के सदस्यता अभियान की शुरुआत अपने गांव मुस्तफापुर से की. इस मौके पर उन्होंने कहा कि बिहार में 50 लाख कार्यकर्ता को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. इस मौके पर आरसीपी सिंह पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पर बयान दिया. उन्होंने प्रशांत किशोर और ममता बनर्जी की मुलाकात को निजी मामला बताया.

RCP सिंह ने कहा कि इससे पार्टी की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा. साथ ही उन्होंने कहा एनडीए अटूट है और विधानसभा का चुनाव साथ लड़ेंगे.

वहीं उन्होंने आगे कहा कि जदयू को अब जल्द ही राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा मिलेगा. दो राज्य में हमारी पार्टी को क्षेत्रीय पार्टी का दर्जा मिल चुका है. दो और राज्य बाकी है. इस बार जम्मू कश्मीर, हरियाणा, झारखंड और दिल्ली में पार्टी चुनाव लड़ेगी. जैसे ही दो और राज्य में क्षेत्रीय पार्टी का दर्जा मिल गया तो हमारी पार्टी को राष्ट्रीय पार्टी दर्जा मिल जाएगा.

ये भी पढ़ें : प्रशांत किशोर के पक्ष में आए नीतीश कुमार, बोले – उनकी संस्था से जेडीयू को कोई मतलब नहीं

इस मौके पर पार्टी के जिलाध्यक्ष बनारस प्रसाद, जदयू नेता विपिन यादव, मुन्ना सिद्धकी, संजय कांत सिन्हा, रंजीत कुमार, नगर जिला प्रवक्ता रोहित सिन्हा, मनोज ताती के अलावे दर्जनों नेता मौजूद थे.

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, पश्चिम बंगाल में भाजपा को अच्छी सफलता मिली है. ऐसे में ममता बनर्जी को होनेवाले विधान सभा चुनाव में डर सताने लगा है. सूत्रों की मानें तो ममता की तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने चुनावी नैया पार लगाने के लिए प्रशांत किशोर के साथ समझौता किया है. यह समझौता दो वर्षों का है.

ममता बनर्जी और प्रशांत किशोर के बीच लगभग पौने दो घंटे बातचीत हुई. मौके पर टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी भी मौजूद रहे. प्रशांत किशाेर की संस्था इंडियन पॉलीटिकल एक्शन कमिटी आगामी विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक रणनीति बनाएगी.

नालंदा से संतोष कुमार की रिपोर्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*