लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कांग्रेस के दही- चूड़ा भोज में महागठबंधन के नेता एकजुट नजर आए. भोज में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, हम पार्टी के अध्यक्ष जीतनराम मांझी, रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, VIP पार्टी के मुखिया मुकेश सहनी के समेत महागठबंधन के तमाम बड़े नेता पहुंचे थे. इस दौरान जीतनराम मांझी ने महागठबंधन को बड़ा संदेश दिया है.

उन्होंने हमारे रिपोर्टर से बात करते हुए कहा कि दही – चूड़ा में जो मिठास है. वहीं, मिठास महागठबंधन में चाहिए. मांझी ने कहा कि गठबंधन में कोई झगड़ा नहीं है. यह जनतंत्र है. जनतंत्र में मतभेद होता है मनभेद नहीं.

जीतनराम मांझी ने कहा कि महागठबंधन एक हो कर NDA को टक्कर देगा. NDA में एकजुटता नहीं है. हर मुद्दों पर वे लोग आपस में बयानबाजी करते हैं. वहीं जगदानंद सिंह पर उन्होंने कहा कि उनसे बात नहीं हुई है. मैं अपनी मांग पर अभी भी कायम हूँ.

कांग्रेस के दही – चूड़ा भोज में बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पहुंचे. कांग्रेस के भोज में तेजस्वी यादव ने पहुंच कर यह संदेश दिया कि महागठबंधन एक है. वहीं, तेजस्वी ने कहा कि आज लालू जी यहां नहीं है इसकी कमी खल रही है. वे होते तो बात ही कुछ और होती.

तेजस्वी ने कहा कि दही-चूड़ा के भोज के मौके पर जो लालू जी ने जो परंपरा की शुरुआत की थी उस खास मौके पर उनका न होना खलता है. लालू जी इस मौके पर सभी को बुलाते थे और खुद अपने हाथों से सभी को दही-चूड़ा का भोज करवाते थे.

ये भी पढ़ें : मकर संक्रांति आज, पटना के गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं ने लगायी आस्था की डुबकी

ये भी पढ़ें : बिहार विधानसभा चुनाव: जीतनराम मांझी बोले- महागठबंधन में सब ठीक, बहुमत से जीतेंगे हम