सीट शेयरिंग पर बोले जीतनराम मांझी – पार्टी को नहीं मिला सम्मान तो नहीं लड़ेंगे चुनाव

जीतनराम मांझी

लाइव सिटीज, पटना से देवांशु प्रभात : लोकसभा चुनाव के तारीखों के एलान के बाद बिहार की राजनीति गरमा गई है. सभी राजनीतिक दल अपने उम्मीदवारों पर मुहर लगाने में लगे हैं. वहीं, बिहार महागठबंधन में अभी भी सीट शेयरिंग को लेकर पेंच फंसा हुआ है. इसी कड़ी में हम पार्टी के मुखिया और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी का बयान आया है. उन्होंने कहा कि 15 मार्च तक महागठबंधन में सीट शेयरिंग का मामला सुलझ जाएगा. लेकिन मेरी पार्टी को सम्मानजनक सीट नहीं मिला तो हम चुनाव नहीं लड़ेंगे.

आज यानि मंगलवार को पटना में मीडिया से बात करते हुए जीतनराम मांझी ने कहा कि 15 मार्च को फाइनल मुहर लग जाएगी. सीटो को लेकर कई राउंड की बैठक हो चुकी है. उन्होंने आगे कहा कि राबड़ी देवी के आवास पर हुई बैठक मे हमारे प्रतिनिधि गए थे. लेकिन कांग्रेस के नेता नहीं शामिल हुए. जिस वजह से अब दिल्ली में 13 और 14 को बैठक होगी. उसके बाद हर हाल में 15 को सीट बंटवारे की घोषणा हो जाएगी.

आपको बता दें बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव कांग्रेस के साथ मीटिंग के लिए आज दिल्ली जा चुके हैं. वहीँ, जीतनराम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा बुधवार को दिल्ली जाएंगे.

महागठबंधनः सीटों का पेंच सुलझाने दिल्ली चले तेजस्वी यादव, पटना में नहीं बनी बात

महागठबंधन के और भी नेता दिल्ली में जुटने वाले हैं. कांग्रेस के नेताओं से बातचीत करनी है. मामले को जल्दी सुलझाना है. उम्मीद की जा रही है कि 13 मार्च मतलब कल गुरुवार को दिल्ली में महागठबंधन की बैठक होगी. इस बैठक में किचकिच को खत्म करने की कोशिश होगी.

अभी तक महागठबंधन का स्वरूप तय नहीं

लोकसभा चुनाव की डेट्स आने के बाद भी महागठबंधन का स्वरूप तय नहीं हो सका है. कौन कहां से लड़ेगा. किसको कौन सी सीट मिलेगी. किस को कितनी सीटें मिलेंगी. ये सब अभी तक तय नहीं हो सका है. ऐसे में माना जा रहा है कि दिल्ली में होने वाली बैठक में सब साफ हो जाएगा. इसके साथ ही साथ 15 मार्च को हो सकता है महागठबंधन की कंबाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस दिल्ली में होगी. उस पीसी में सब साफ हो जाएगा. ऐसा महागठबंधन के नेता कह रहे हैं.

About परमबीर सिंह 2217 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*