लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर सियासत गरम है. राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह सभी गैर भाजपाई दलों को एक साथ करना चाहते हैं. इस मुद्दे पर पूर्व जीतनराम मांझी ने भी रघुवंश प्रसाद सिंह का समर्थन किया है. मांझी ने कहा कि जिस तरीके से राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद यह कह रहे हैं कि सभी गैर भाजपा दलों को एक होना चाहिए इससे वह भी सहमत हैं.

एनआरसी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि बीजेपी एनआरसी और धारा 370 का मुद्दा उठा कर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ रही है. इन्हीं सब ताकतों से लड़ने के लिए हम सभी गैर भाजपा दलों को आज एक होना पड़ेगा.

पप्पू यादव को मांझी देंगे नेवता

जब उनसे पप्पू यादव को लेकर सवाल किया गया तब मांझी ने कहा कि पप्पू यादव की विचारधारा भी महागठबंधन से मिलती जुलती है. साथ में बैठकर महागठबंधन के लोग इस पर विचार करेंगे और उन्हें भी साथ आने को कहा जाएगा.

भाई वीरेंद्र का है कुछ अलग विचार

नीतीश कुमार के महागठबंधन में शामिल होने के सवाल पर बिहार की राजनीति में सियासी घमासान छिड़ गया है. इसी मुद्दे पर राजद नेता भाई वीरेंद्र ने कहा है कि गैर भाजपाई दलों को एक साथ होना चाहिए. लेकिन, कुछ लोग होते हैं जो धोखा दे कर चले जाते हैं. इस पर सोचना चाहिए.

भाई वीरेंद्र ने कहा कि हम रघुवंश प्रसाद सिंह के बयान का समर्थन करते हैं. लेकिन मुझे लगता है कि सिर्फ सत्ता परिवर्तन के लिए गठबंधन नहीं होना चाहिए. जिसने जनता के जनादेश को धोखा देने का काम किया है उनसे समझौता नहीं होना चाहिए. नीतीश कुमार NDA में भी रहे, महागठबंधन में भी रहे. वे सिर्फ अपनी गद्दी बचाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं.