कैमूर : सड़क पर कचरा एवं जलजमाव से दर्जनों गांव के आवागमन का मुख्य मार्ग है बदहाल

लाइव सिटीज, कैमूर/भभुआ(ब्रजेश दुबे) : जिले के दुर्गावती प्रखंड अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या दो से कोट्सा माइनर होते हुए मां कुलेश्वरी देवी धाम को जाने वाली मार्ग पर कचरा एवं जलजमाव से आने-जाने में लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इसका मुख्य कारण जहां सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे हैं तो वहीं सड़क के गड्ढों में जल जमाव एवं बगल में रेलवे का ओवर ब्रिज बना रही कंस्ट्रक्शन कंपनी के द्वारा बोरिंग के कचरे को सड़क पर गिराए जाने से स्थिति और भयावह हो गई है.

इस संदर्भ में आसपास के ग्रामीणों के द्वारा कंपनी के कर्मचारियों को सूचना दी गई कि जलजमाव के साथ-साथ सड़क पर कचरा गिराने से आवागमन में काफी परेशानी हो रही है. कई बाइक सवार प्रतिदिन कचरा में गिर रहे हैं. लेकिन इसके बावजूद भी कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मियों के द्वारा कोई पहल नहीं की गई .जिसे लेकर क्षेत्रीय ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा सोमवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी दुर्गावती को लिखित आवेदन देकर इस समस्या के विषय में गुहार लगाई.



बताते दें कि सड़क को गड्ढे में तब्दील होने से आवागमन में परेशानी को लेकर अखबारों के माध्यम से भी कई बार प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया. इसके बाद 1100 मीटर लंबे मार्ग के मरम्मतिकरण के लिए 28 अप्रैल से कार्य प्रारंभ करना था. इस सड़क की मरम्मत 24 लाख 77 हजार रुपया की लागत से की जानी है, लेकिन निश्चित समय सीमा के 4 माह बाद भी मरम्मतिकरण का कार्य प्रारंभ नहीं किया गया. जिससे बरसात के मौसम मे लोगों को आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. जिसे लेकर क्षेत्रीय जनता में काफी आक्रोश देखा जा रहा है.