महबूब अली कैसर का जवाब – खगड़िया में वोट मांगने नहीं, पीड़ित किसानों को देखने गया था

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : खगड़िया से लोजपा प्रत्याशी चौधरी महबूब अली कैसर को आज अपने क्षेत्र में लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा. इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हुआ था. बताया गया कि जिले के महेशखूंट में यह विरोध तब हुआ जब कैसर अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने के लिए निकले थे. हालांकि अब इन ख़बरों पर महबूब अली कैसर ने सफाई दी है. उन्होंने स्पष्ट किया है कि उक्त घटना के वक़्त वे चुनाव प्रचार का काम नहीं कर रहे थे, बल्कि अस्पताल में ओलावृष्टि पीड़ितों से मुलाक़ात करने जा रहे थे.

लाइव सिटीज पर वीडियो से संबंधित खबर चलने के बाद खगड़िया के निवर्तमान सांसद महबूब अली कैसर ने अपनी यह प्रतिक्रिया दी है. लाइव सिटीज से बात करते हुए उन्होंने इसका खंडन किया कि वे घटना के वक़्त चुनाव प्रचार के निकले थे. उन्होंने बताया कि वे महेशखुट स्थित एक अस्पताल में मंगलवार को हुई ओलावृष्टि में घायल किसानों से मिलने गए थे. आगे देखें महबूब अली कैसर की प्रतिक्रिया….

हो गया कन्फर्म, खगड़िया से महबूब अली कैसर ही लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

कैसर ने बताया कि इसी दौरान वहां कुछ लोग घायलों को मुआवजे की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, जिस वजह से जाम लगा था. इस वजह से उन्हें अपनी गाडी से उतर कर पैदल अस्पताल तक जाना पड़ा. इसी दौरान कुछ लोगों ने उनके खिलाफ इस ग़लतफ़हमी में आकर नारेबाजी की कि वे ऐसे वक़्त में भी वोट मांगने लोगों के बीच आये हैं. कैसर ने कहा कि वे इतने भी असंवेदनशील नहीं है कि घायलों के बीच वोट मांगने जायें.

सांसद ने कहा कि उन्होंने अस्पताल जाकर सिविल सर्जन से बात की और उन्हें घायलों को तुरंत उचित चिकित्सा सुविधा बहाल कराने की मांग की. साथ ही जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारियों से बात कर प्रभावित किसानों को मुआवजा दिलाने की मांग भी की है.

लोकसभा चुनाव: मुकेश सहनी खगड़िया से लड़ेंगे चुनाव, महबूब अली कैसर से होगा मुकाबला

खगड़िया में तीसरे चरण में वोटिंग

खगड़िया में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के अंतर्गत 23 अप्रैल को वोटिंग होगी. सोमवार 8 अप्रैल को नाम वापस लेने की आखिरी तारीख के बाद इस चरण में बिहार की जिन पांच लोकसभा सीटों के लिए वोटिंग होनी है, उनपर कुल 82 कैंडिडेट मैदान में हैं. इनमें झांझरपुर से 17, अररिया से 12, सुपौल से 20, मधेपुरा से 13 और खगड़िया से 20 उम्मीदवार मैदान में हैं.

मुकेश सहनी से है मुकाबला

बता दें कि खगड़िया लोकसभा सीट पर मुख्य मुकाबला महबूब अली कैसर तथा महागठबंधन की ओर से VIP पार्टी प्रत्याशी मुकेश सहनी के बीच है. लोगो की माने तो 2014 में यहाँ से दूसरे स्थान पर रहे राजद प्रत्याशी बाहुबली रणवीर यादव की पत्नी कृष्णा यादव तथा पूर्व सांसद दिनेश चंद्र यादव के मैदान से बाहर रहने के कारण कैसर की राह आसान लगती है. परंतु हसनपुर विधान सभा क्षेत्र में भारी संख्या मल्लाहों की होने तथा कांग्रेस-राजद का मुकेश सहनी को मिल रहे समर्थन के कारण हसनपुर विधान सभा में काँटे की टक्कर होने की संभावना जताई जा रही है.

About Anjani Pandey 863 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*