नित्‍यानंद-गिरिराज को जिताने के लिए राजद के स्‍वयंभू नेता ने की सीक्रेट डील : पप्पू यादव

पप्पू यादव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : जन अधिकार पार्टी के राष्‍ट्रीय संरक्षक सह मधेपुरा सांसद पप्‍पू यादव (Pappu Yadav) ने आज मधेपुरा में आयोजित एक संवाददाता सम्‍मेलन में राजद पर गंभीर आरोप लगाए और कहा कि राजद के स्‍वयंभू नेता ने महागठबंधन का नाश कर दिया है. यही वजह है कि वह महागठबंधन के उम्‍मीदवार के खिलाफ राजद का कंडिडेट खड़ा कर रहे हैं. उन्‍होंने राजद पर मधेपुरा की जनता का अपमान करने का आरोप लगाया. कहा कि मुझे मधेपुरा के 20 लाख लोगों ने मजदूर और सेवक के रूप में स्‍वीकारा और बनाया है. लेकिन, राजद के लोग कह रहे हैं कि मैं मधेपुरा से चुनाव न लड़ू, वरना वो औकात बता देंगे. राजद के लोग मधेपुरा की जनता के विश्‍वास और भरोसे को औकात बताने की बात कर रहे हैं. वो भी वह यदुवंश यादव, जिसे जिला परिषद के चुनाव में 700 से वोट मिले थे.

पप्‍पू यादव ने राजद पर सीक्रेट डील करने का भी आरोप लगाया और कहा कि राजद के अंहकारी स्‍वयंभू नेता ने पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में अपनी बहन की जीत के लिए माले से समझौता कर लिया है और माले के लिए एक सीट आरा छोड़ दिया. जबकि राजद के ही प्रमुख नेता शहाबुद्दीन को कमजोर करने के लिए उनकी पत्‍नी हीना शहाब के खिलाफ माले ने अपना उम्‍मीदवार दिया है.

पप्‍पू यादव यही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि गिरिराज सिंह को जीतवाने के लिए बेगूसराय में तनवीर हसन को टिकट दिया गया. नित्‍यानंद राय को जीताने के लिए भी सीक्रेट डील कर ली है. उन्‍होंने कहा कि लालू यादव को राजनीतिक रूप से खत्‍म करने की साजिश शरद यादव ने की थी और आज वही मधेपुरा में राजद के उम्‍मीदवार बन गये. राजद ने पार्टी के वफादारों को बेटिकट किया है. राजद के नेता ने महागठबंधन का नाश कर दिया है. उन्‍होंने तंज करते हुए कहा कि जिससे घर नहीं संभल रहा है, उससे पार्टी कैसे संभलेगी.

ये भी पढ़ें : पप्पू यादव सिर्फ मधेपुरा से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, पूर्णिया की जनता से मांगी माफ़ी

उन्‍होंने कहा कि शरद यादव ने कोसी की जनता को विलेन बनाने का प्रयास किया, बदनाम किया. जिन यादवों को गाली देते रहे, अब उनसे वोट मांगने आ रहे हैं. पहले नीतीश कुमार शरद यादव को जीतवाने आते थे, अब हरवाने आएंगे. सांसद ने कहा कि कोसी के हजारों परिवारों के साथ हमारा खून का रिश्‍ता है. मधेपुरा में हमारी लडा़ई एकतरफा है. शरद यादव व दिनेश चंद्र यादव को कोसी की जनता नकार देगी. यह लड़ाई कोसी के युवा, आम आदमी और गरीबों की जिदंगी से जुड़ी हुई है और इस लड़ाई को जन अधिकार पार्टी जीतेगी. कोसी में हमारी औकात बताने वालों को मुंह की खानी पड़ेगी. राजनीतिक लाभ के लिए सामाजिक न्‍याय के साथ धोखा किया गया. अब आर-पार की लड़ाई होगी.

About परमबीर सिंह 1377 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*