‘सो लीजिए मंत्री जी, चुनाव ख़त्म हो चुका है, सोइये हुज़ूर ये बच्चे आपके नहीं हैं’

वायरल तस्वीर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार का कहर जारी है. अब तक इस बीमारी से 93 बच्चों की मौत हो गई है. आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन मुजफ्फरपुर आए थे. बच्चों का हाल जानने के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. इस PC में उनके साथ बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और राज्य स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी मौजूद थे. लेकिन अश्विनी चौबे एक गलती कर बैठे. जिस वजह से वे विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं.

दरअसल, प्रेस कॉन्फ्रेंस की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में अश्विनी चौबे सोते हुए दिखाए दे रहे हैं. इसी तस्वीर को लेकर बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने राज्य स्वास्थ्य मंत्री पर निशाना साधा है. उन्होंने इस तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा है कि सो लीजिए मंत्री जी, चुनाव ख़त्म हो चुका है. आप जीत चुके है और 20 दिनो तक जश्न मनाने के बाद आपको मुज़फ़्फ़रपुर आने का समय मिला वह ही बहुत है. उन्होंने आगे कहा कि 100 से ज़्यादा मौतें और अभी भी अगर सरकार की नींद नहीं खुली तो फिर सिर्फ़ ईश्वर ही मलिक है.

पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भी यह तस्वीर शेयर की है. उन्होंने ट्वीटर पर लिखा है कि सोइये हुज़ूर. ये बच्चे आपके नहीं हैं. इसमें हिन्दू-मुसलमान की राजनीति नहीं हो सकती, तो जग कर आप क्या करेंगे? 5 साल बाद इसमें पाक की साजिश ढूंढ लीजियेगा. फिर वोट ले, ऐसे ही गधा बेच सो जाइयेगा. गरीब मां-बाप अपने बच्चों की बेमौत मौत पर रतजगा करें, उनकी आंखों की नींद उड़ जाय. आपको क्या फर्क?

वहीं इस तस्वीर को शेयर कर वरिष्ठ पत्रकार अजित अंजुम लिखते हैं कि मुज़फ़्फ़रपुर के अस्पताल में जब केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन मीडिया से बात कर रहे थे, तब उनके जूनियर राज्य मंत्री अश्विनी चौेबे बुरी तरह ऊँघ रहे थे. आवाज सुनकर बीच -बीच में आँखें खोलकर जगे होने का दिखावा करने का अथक प्रयास कर रहे थे.

अश्विनी चौबे पर मरीज के परिजनों का आरोप

आज मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल हो गया था. मरीज के परिजनों का ये आरोप था कि स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे गैलरी में पड़े मरीज को देखे बिना ही आगे बढ़ गए. कहा गया उनसे कि साहब जमीन पर पड़े इन मासूमों के देख लीजिए. लेकिन किसी ने न सुनी.

About परमबीर सिंह 2225 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*