फिर बंधक मरीज को मुक्‍त कराया पप्‍पू यादव ने, हर दिन जोड़ रहा था 1 लाख का बिल

पटना : जन अधिकार पार्टी के संरक्षक-सह-मधेपुरा सांसद पप्‍पू यादव ने आज राजधानी के कंकड़बाग स्थित शिवा हॉस्पिटल में बंधक बनाकर रखी गयी मरीज शमां परवीन को मुक्‍त कराया. प्राप्‍त जानकारी के अनुसार, शिवा हॉस्पिटल ने सहरसा निवासी शमां परवीन को 10 हजार पैसे के लिए दो दिनों से बंधक बनाकर रखा गया था. मामूली बीमारी के लिए 3 लाख 30 हजार रुपये का बिल थमा दिया था. परेशान परिवार 7 लाख का भुगतान कर चुका था, लेकिन 10 हजार रुपये के लिए मरीज को आईसीयू में बंधक बना रखा था और हर दिन 1 लाख रुपये का बिल जोड़ रहा था.

जब इसकी सूचना सांसद पप्‍पू यादव को मिली, तब डॉ. विश्‍वनाथ को लेकर अस्‍पताल पहुंचे. इस दौरान डॉक्‍टर ने बताया कि इस हॉस्‍पीटल में मरीज शमां परवीन को मामूली बुखार के लिए तीन दिन की दवाई का बिल 90 हजार रूपये दिखाया गया. इस तरह फर्जी तरीके से बिल बना कर महिला मरीज शमां परवीन को बनाया था, जिससे सांसद ने छुड़वाया और एंबुलेंस से उनके मरीज को उनके घर पहुंचाया गया. इसके साथ अस्‍पताल प्रबंधन ने भुगतान किये गये तीन लाख रुपये से 1 लाख 60 हजार रुपये कल वापस करने का वादा किया है.



गौरतलब है कि पिछले दिनों 26 नवंबर को भी सांसद पप्‍पू यादव की तत्‍परता और छापेमारी के बाद कुम्‍हरार के मां शीतला इमरजेंसी अस्‍पताल के प्रबंधन ने बंधक बनाकर रखी गयी महिला लालती देवी को मुक्‍त किया था. मधेपुरा की रहने वाली लालती देवी को प्रसव के लिए 11 दिन पहले इस अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. जहां प्रसव के दौरान बच्‍चा मरा पैदा हुआ.

पटना में बच्‍चे की मौत के बाद अस्‍पताल में मां थी बंधक , पप्‍पू यादव के रेड से मिली छुट्टी
पप्‍पू के आंदोलन से डरा पारस अस्‍पताल, मृत छात्र की फैमिली को लौटायेगा 8 लाख रुपये

मधेपुरा के एक दलाल के माध्‍यम से वह इलाज के इस अस्‍पताल में पहुंची थी. अस्‍पताल प्रबंधन ने इलाज के एवज में 70 हजार रुपये की मांग की. उसके पति निर्धन राम ने 50 हजार रुपये का भुगतान किया. शेष राशि देने में वह असमर्थ था. सूचना मिलने के बाद सांसद पप्पू यादव ने आज अस्‍पताल पहुंच कर महिला को मुक्‍त कराया और बेहतर इलाज के लिए आर्थिक मदद भी की.