पप्पू यादव मिले CM नीतीश से, मुख्य सचिव को शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई का निर्देश

NITISH-PAPPU11
CM नीतीश कुमार से मिलते पप्पू यादव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय संरक्षक सह सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव आज सोमवार 19 मार्च की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिले. तकरीबन डेढ़ घंटे तक चली मुलाकात के दौरान सांसद ने मुख्‍य रूप से दारोगा अभ्‍यर्थियों की पिटार्इ और अररिया वायरल वीडियो मामले में कार्रवाई करने की मांग की, जिस पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने तत्‍काल बिहार के मुख्‍य सचिव को इस मामले में उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

बाद में पप्पू यादव ने पत्रकारों से कहा कि हमने मुख्‍यमंत्री से दारोगा बहाली की परीक्षा को रद्द करने की मांग की. इसके साथ दारोगा बहाली परीक्षा के प्रश्‍न पत्र लीक होने और लाठीचार्ज के मामले की जांच कराने की मांग की है. साथ ही दोषी के खिलाफ कार्रवाई करने और छात्रों के खिलाफ दर्ज मुकदमे को वापस लेने के साथ ही 15 मार्च को हुई परीक्षा को रद्द कर नयी समय सारिणी के तहत फिर से परीक्षा आयोजित करने की मांग की.

NITISH-PAPPU12

पप्पू बोले – नौजवानों से मजाक कर रही BPSC-SSC, रैकेट में नेता से अधिकारी तक शामिल

SSC और SI कैंडिडेट्स की पिटाई के खिलाफ पप्पू यादव का राजभवन मार्च

उन्होंने कहा कि अररिया मामले को लेकर भी मुख्‍यमंत्री से चर्चा की और वायरल वीडियो की जांच कराने की मांग की, ताकि वास्‍तविकता सामने आ सके. चर्चा के दौरान ही मुख्‍यमंत्री ने इन दोनों मामले में उचित व त्‍वरित कार्रवाई का निर्देश मुख्‍य सचिव को दिया. VIDEO : SSC-SI  पेपर लीक और अररिया वीडियो वायरल मामले को सांसद पप्पू यादव ने बड़ी बात कह दी है…

नीतीश कुमार : समाज को बांटने वालों का साथ नहीं दे सकते, अपने सिद्धांत पर कायम रहेंगे

नीतीश कुमार को बहुत बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

CNLU विवाद पर भी शिकायत

सांसद ने कहा कि मुख्‍यमंत्री से हमने चाणक्‍य राष्‍ट्रीय विधि विश्‍वविद्यालय (CNLU) के कुलपति का प्रभार पटना उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश को तत्‍काल प्रभाव से सौंपने की मांग की. उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री से CNLU के आंदोलनरत छात्रों को लेकर भी चर्चा की.

इस दौरान छात्रों की शिकायत से अवगत कराते हुए सांसद ने कहा कि वर्तमान कुलपति का कार्यकाल समाप्‍त होने के बाद भी उनके लिए नया पद सृजित किया जा रहा है, जबकि उन पर कई तरह के आरोप हैं. साथ ही छात्रों का कहना है कि विश्‍वविद्यालय के नवनियुक्‍त कुलपति प्रो. ईश्‍वर भट्ट पर भी कई आरोप हैं. इस कारण छात्र उनकी नियुक्ति का विरोध कर रहे हैं. इसलिए हमने पटना उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश को तत्‍काल प्रभाव से कुलपति का प्रभार सौंपने का आग्रह भी मुख्‍यमंत्री से किया है.

VIDEO : भाजपा-कांग्रेस ने अपने फायदे वाला बिल चुपके से पारित करा लिया है…

VIDEO : #दरभंगा मामले को लेकर गिरिराजसिंह और #अश्विनीचौबे पर अभी गरम है #बिहार की सियासत…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*