काॅपी कर भी जीवन में कभी सफलता प्राप्त नहीं कर सके तेजस्वी : मंगल पांडेय

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव किसी भी चीज की काॅपी करने में माहिर हैं. लेकिन काॅपी करके भी वे जीवन में कभी सफलता प्राप्त नहीं कर सके. बेरोजगारी का विरोध भी नेता प्रतिपक्ष प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की काॅपी कर लोगों को धोखा दे रहे हैं. उनका विरोध जताने का तरीका जनता को भरमाने वाला है. उनके पास अपना कोई आइडियोलाॅजी नहीं है, इसलिए दूसरी मर्तबा प्रधानमंत्री जी के ताली-थाली एवं दीया जलाने की दूरदर्शी सोच की काॅपी कर बिहार के लोगों से विकास रूपी लाइट को ऑफ करा फिर से लालटेन युग में जीने को प्रेरित कर रहे हैं.

मंगल पांडेय ने कहा कि प्रधानमंत्री जी की सोच रचनात्मक और रक्षात्मक थी, लेकिन तेजस्वी यादव का यह नया पैतरा एनडीए सरकार द्वारा राज्य में किये गये विकास कार्यों से ध्यान भटकाने के सिवाय और कुछ भी नहीं. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि नकल करने के फेर में नेता प्रतिपक्ष की पढ़ाई तो छूटी ही, साथ ही खेल जगत में भी फिसड्डी रहे. यही नहीं विरासत में राजनीति तो मिली, पर अपनी अज्ञानता एवं तथ्यविहीन बयान से राजनीति में बौउआ ही बनकर रह गये. उनके नेतृत्व में न सिर्फ राजद का कुनबा ढह रहा है, बल्कि बीते लोक सभा के चुनाव में राजद का खाता नहीं खुलना तेजस्वी यादव की क्षमता पर भी सवाल उठाता है.



स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में भी राज्य की जनता ऐसे नकलची नेता को इस कदर बेरोजगार बनायेगी कि बयान देने और ट्वीट करने के लायक भी नहीं रहेंगे. उन्होंने कहा कि आजकल वे अपने आप को आंकड़ों का बाजीगर समझ रहे हैं, लेकिन नवीनतम सूचनाओं से बेखबर रहते हैं. कोरोना काल में भी लोगों को गलत आंकड़ों के आधार पर नेता प्रतिपक्ष ने लोगों को बरगलाने का असफल प्रयास किया, लेकिन जनता ने राज्य सरकार के प्रयासों को सराहते हुए उनकी बातों को खारिज कर दिया. बिहार को अंधेरे में धकेलने का राजद के इस नये प्रयोग का जवाब राज्य की जनता आने वाले चुनाव में एनडीए पर भरोसा जता कर देगी.