अपनी मांगों पर अड़ गए मांझी, सरकार के खिलाफ आज देंगे धरना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : तेजस्वी यादव पर जाति की राजनीति करने का आरोप लगाकर बिहार की सियासत में बवाल मचाने के बाद अब जीतन राम मांझी आज अपनी सक्रियता दिखाएंगे. मांझी और उनकी पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा की तरफ से आज एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया है. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने कुल 8 एजेंडों पर आज का धरना बुलाया है.

जीतन राम मांझी सांकेतिक तौर पर एक 11 बजे से 1 बजे के बीच धरने पर बैठेंगे. इस दौरान सभी जिलों में उनकी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता भी धरना देंगे.लॉक डाउन को ध्यान में रखते हुए पार्टी की तरफ से जिला अध्यक्षों समेत अन्य नेताओं को धरने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने का निर्देश दिया गया है. लोग एक दूसरे के बीच फासला रखें और मास्क का इस्तेमाल करें.



जीतन राम मांझी नीतीश सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ एक दिवसीय धरना देंगे. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा की तरफ से सरकार से 8 मांगें की जायेगी. मांझी सरकार से अपनी आठ मांगों पर विचार करने के साथ उसके ऊपर अमल करने की मांग करेगें. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बीएल वैश्यंत्री ने सभी जिला अध्यक्षों को इस एकदिवसीय धरने में शामिल होने का निर्देश दिया है.

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा की तरफ से कुल 8 सूत्री मांग रखी गई है. जिनमें प्रवासियों को क्वॉरेंटाइन सेंटर में बेहतर सुविधा मुहैया कराना, अच्छा भोजन मुहैया कराना, डिग्निटी किट दिया जाना, एक हजार की आर्थिक मदद दिया जाना समेत अन्य मांग शामिल है. इन सभी मुद्दों पर सरकार पहले ही फैसला लेकर काम कर रही है. बावजूद इसके मांझी कुछ नए मुद्दों के साथ सरकार को घेरने की रणनीति नहीं बना पाए हैं.